Home » हेल्थ केयर टिप्स » benefits of turmeric milk health and beauty
 

गठिए और सूजन का रामबाण इलाज है हल्दी वाला दूध , जड़ से खत्म हो जाएगी ये बीमारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 February 2020, 16:11 IST

हल्दी का इस्तेमाल खाने की रंगत के साथ त्वचा की रंगत निखारने में करते हैं. लेकिन हल्दी एंटीसेप्टिक और एंटीबायोटिक गुण शरीर से कई रोगों को दूर करने में लाभदायक माने जाते हैं. हल्दी के पौधे से मिलने वाली गांठे ही नहीं बल्कि पत्ते भी बहुत लाभकारी होते हैं. वहीं हल्दी को दूध के साथ लिया जाए तो गठिए व शरीर की सूजन को भी कम कर देता है. हल्दी वाले दूध से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.


हल्दी और दूध के फायदें…
जिन लोगों को गठिए की परेशानी है वो हड्टियों में दर्द वो जोड़ों के दर्द की समस्या रहती हैं उनके लिए हल्दी वाला दूध सबसे बेस्ट है. हल्दी वाले दूध से जोड़ो और मांसपेशिया लचीली बनती हैं. इससे दर्द में भी कमी आती है.

हल्दी का उपयोग चोट लगने और सूजन आ जाने पर पिलाया जाता है. चोट कैसी भी हो हल्दी वाला दूध बहुत लाभकारी होता है. हल्दी वाले दूध में एंटी बैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण बैक्टीरिया को पनपने नहीं देते, जिसके कारण चोट जल्दी ठीक हो जाती है.

एक रिसर्च के मुताबिक हल्दी में पाए जाने वाले तत्व कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने नहीं देते हैं और इसी के साथ कीमोथेरेपी से होने वाले साइड इफेक्ट को कम करती है.

इसी के साथ आयुर्वेद में ये भी कहा गया है कि हल्दी वाला दूध रक्त साफ करने में लाभकारी है. ब्लड सर्कुलेशन को सही करता है. पीरियड्स के दौरान पेट दर्द की समस्या में भी इस दूध को पीने से राहत मिलती है.

डिलीवरी के बाद औरतों की जल्जी रिकवरी के लिए हल्दी वाला दूध रामबाण उपचार है. महिलाओं की डिलीवरी के बाद ब्रेस्ट मिल्क में भी सुधार होता है. इसी के साथ हल्दी वाला दूध खून साफ करने में भी मदद करता है.

यदि आप रोजाना हल्दी वाला दूध पीते हैं तो आपकी त्वचा नें काफी निखार आता है. इसका फेस पैक स्किन पर हुए पिंपल्स के लिए बहुत फायदेमंद साबित होता है.

जहरीला होता है सेब का बीज, भूलकर भी खा लिया तो हो सकती है मौत !

First published: 5 February 2020, 16:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी