Home » हेल्थ केयर टिप्स » Brushing your teeth could prevent alzheimers and other diseases
 

दांतों और मसूड़ों की परेशानी को ना करें अनदेखा, वरना हो सकती है ये लाइलाज बीमारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 June 2019, 13:10 IST

यदि आप अपने मसूड़ों और दांतों की परेशानी को अनदेखा कर रहे हैं, तो इससे आगे जाकर आपको अल्जाइमर की बीमारी हो सकती है. रिसर्च कर्ताओं का कहना है कि दांतों की समस्या के कारण की अल्जाइमर का खतरा बढ़ता है. आप अपने दांत और मसूड़ों को जितना साफ रखेंगे, अल्जाइमर के खतरे से उतना ही दूर जाएंगे.

रिसर्चर्स का कहना है कि मसूड़ों से हानिकारक एंजाइम दिमाग की तंत्रिका कोशिकाओं तक जाते हैं और इसे वे नष्ट कर सकते हैं. इससे आपका दिमाग कमजोर हो सकता है. इसके साथ ही आपकी याददाश्त कमजोर हो जा सकती है. मतलब इससे आपको मसूड़ों के सूजन, खून निकलने और अन्य दूसरी समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती हैं, जो बैक्टीरिया आपके मुंह के जरिए सीधे आपके दिमाग में जाकर अटैक कर सकती हैं.

इस रिसर्च में रिसर्चर माइडेल ने अपनी टीम के साथ मिलकर 53 अल्जाइमर से पीड़ित लोगों को शामिल किया, जिनमें से 96 प्रतिशत अल्जाइमर पीड़ितों में मसूड़ों की बीमारी देखने को मिली. बता दें कि अल्जाइमर एक ऐसी बीमारी है, जिससे आपकी याददाश्त चली जाती है.

अल्जाइमर ज्यादातर बुुजुर्गों में देखने को मिलती है, फिर भी अगर आप अपने दांतों को अच्छे से साफ नहीं रखेंगे, तो इससे आपको अल्जाइमर होने की संभावना अधिक हो सकती है. नॉर्वे की बर्गन यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने इस समस्या पर रिसर्च किया कि दांतों और अल्जाइमर के बीच कैसा संबंध है. इस रिसर्च को साइंस एडवांसेज जर्नल में प्रकाशित किया गया है.

बर्फ से कम कर सकते हैं पेट की चर्बी, मात्र इतने दिनों में हो जाएंगे फिट

First published: 20 June 2019, 13:10 IST
 
अगली कहानी