Home » हेल्थ केयर टिप्स » Cancer Treatment Doctors Finds Breaking Cancer Treatment Without Chemotherapy its cured in 48 hours
 

वैज्ञानिकों ने खोज निकाला कैंसर का स्थाई इलाज, बस 48 घंटे में मिलेगा छुटकारा

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2019, 17:10 IST

कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिसका नाम सुनकर हर किसी की हालत खराब हो जाती है. ऐसे किसी को पता चलता है कि उसे कैंसर है तो खुद को मरा हुआ समझ लेता है जीने की उम्मीद खो बैठता है लेकिन अब मेडिकल साइंस ने इसका हल खोज निकाला है. जो कैंसर के मरीज को सिर्फ 48 घंटे में ठीक कर देगी.

दरअसल, अमेरिका में किए गए एक शोध में पाया गया है कि कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को पूरी तरह ठीक किया जा सकता है. इतना ही नहीं इसके लिए मरीज को किसी महंगी दवाइयों और ट्रीटमेंट कराने की जरूरत नहीं होगी. इसके लिए मरीज को सिर्फ कुछ कुदरती चीजों का सेवन कर करना होगा. जिससे कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी 48 घंटों के अंदर खत्म हो जाएगी.

बता दें कि कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिसका इलाज बहुत कम ही संभव है. इतना ही नहीं इसका ट्रीटमेंट इतना महंगा है कि हर किसी के लिए कराना संभव नहीं है. कई बार तो कैंसर के इलाज के दौरान होने वाली कीमोथैरेपी में मरीज की जान चली जाती है.

बता दें कि कैलीफोर्निया यूनिवर्सिटी में कैंसर के मरीजों पर शोध करने के बाद यह सामने आया है कि अगर कैंसर के मरीजों को अंगूर के बीज के रस का सेवन कराया जाए तो इसका परिणाम बहुत जल्दी देखने को मिलता है. इस रिसर्च को लेकर कॉलेज के मेडिकल फिजिक्स के सीनियर प्रोफेसर डॉ. हर्डिन बी जॉन्स ने बताया कि करीब 25 वर्षों तक चले शोध में यह सामने आया है कि अंगूर के बीज से निकलने वाला रस कैंसर पर बहुत तेजी से असर करता है.

इसके साथ ही इस रिसर्च में इस बात का भी पता चला कि कैंसर के मरीजों के लिए अंगूर का रस इतना असरदार है कि इसके सेवन के 48 घंटों के भीतर ही इसका रिजल्ट सामने नजर आने लगा था. वैज्ञानिकों ने यह भी बताया कि अंगूर का बीज कैंसर पर काम करता है.

वैज्ञानिकों का कहना है कि अंगूर के बीजों से निकला रस रक्त कैंसर सहित कई प्रकार के कैंसर के इलाज के लिए बेहद फायदेमंद है. बता दें कि अंगूर के बीज में जेएनके प्रोटीन पाया जाता है जो बिना किसी साइड इफेक्ट के कैंसर कोशिकाओं को करीब 76 प्रतिशत तक जड़ से खत्म कर सकता है.

ये भी पढ़ें- पुरुषों की शारीरिक कमजोरी झट से दूर कर देता है ये फल, जानें खाने के और भी फायदे

First published: 11 February 2019, 17:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी