Home » हेल्थ केयर टिप्स » China: Nine people killed by food poisoning after drinking noodle soup
 

नूडल सूप पीना पड़ गया भारी, इस वजह से चली गई 9 लोगों की जान

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 October 2020, 9:05 IST

Death Due to Noodle Soup: अगर आप भी नूडल्स खाते हैं या नूडल सूप पीते हैं तो आपको सावधान होने की जरूरत है. चीन में नूडल सूप पीने से 9 लोगों की मौत हो गई है. चीन की इस घटना ने वहां के स्वास्थ्य अधिकारियों की चिंता बढ़ा दी है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पूर्वोत्तर चीन के हिलोजियांग प्रांत में यह घटना हुई.

रिपोर्ट्स के अनुसार, एक घर में 12 लोगों ने नूडल सूप को पिया. इसमें परिवार के नौ लोगों की सूप पीने से मौत हो गई. बताया जा रहा है कि परिवार ने जो सूप पिया था, उसे कॉन फ्लोर से तैयार किया गया था. आश्चर्य की बात है कि वह सूप एक साल से फ्रीजर में रखा हुआ था. यह घटना 5 अक्तूबर की है. 5 अक्टूबर की सुबह नाश्ते में परिवार ने यह नूडल सूप पिया था.

सूप पीने के कुछ ही घंटों में घर में रह रहे लोगों की हालत बिगड़ी तो उन सभी को अस्पताल ले जाया गया. अस्पताल में 9 लोगों ने दम तोड़ दिया, वहीं तीन लोगों अभी भी जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं. डॉक्टरों ने मौत का कारण सूप में बॉन्गक्रेकिक एसिड की ज्यादा मात्रा को बताया है. बॉन्गक्रेकिक एसिड की वजह से फूड प्वॉइजनिंग हुई और 9 लोगों की मौत हो गई.

बॉन्गक्रेकिक एसिड बनती है फूड प्वॉजनिंग का कारण

बॉन्गक्रेकिक एसिड मैदा और चावल से जुड़े फूड आइटम्स में पाई जाती है. चाइना एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी के एक प्रोफेसर ने बताया कि बॉन्गक्रेकिक एसिड बहुत ही जहरीली होती है. यह जिस फूड आइटम में होती है उसे गर्म करने के बाद भी उसका असर खत्म नहीं होता. इसी बॉन्गक्रेकिक एसिड ने घर में रखे नूडल सूप को जहरीला बना दिया था.

उन्होंने बताया कि बॉन्गक्रेकिक एसिड युक्त फूड खाने से जानवरों में भी फूड प्वॉइजनिंग हो सकती है,  जो मौत की वजह हो सकती है. चीन स्वास्थ्य आयोग ने इस संबंध में चेतावनी जारी कर खाने में फर्मेंटेड फ्लोर न लेने की सलाह दी है. चीन के अधिकारियों ने कहा कि पूरे मामले की जांच में सामने आया है कि घर के लोगों ने जो नूडल सूप पिया, उसमें काफी ज्यादा मात्रा में बॉन्गक्रेकिक एसिड थी.

उन्होंने बताया कि नूडल सूप फ्रीजर में सालभर तक पड़ा था. इस कारण वह बहुत ज्यादा खराब हो चुका था. जिस दिन यह घटना हुई, उस दिन घर में नाश्ते पर परिवार के 12 सदस्य थे. जिन नौ लोगों की जान गई, उन्होंने काफी मात्रा में सूप पिया था, जबकि तीन सदस्यों ने सूप का स्वाद पसंद न आने के कारण कम सूप पिया था. इस कारण वह तीन लोग फूड प्वॉजनिंग का शिकार होने से बच गए.

ICMR का चौकाने वाला खुलासा, कहा- एंटीबॉडी खत्म होने पर फिर से हो सकता है कोरोना संक्रमण

कोरोना का प्रकोप: फरवरी 2021 तक देश की आधी आबादी को हो सकता है कोरोना, सरकारी पैनल ने किया खुलासा

First published: 22 October 2020, 8:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी