Home » हेल्थ केयर टिप्स » Corona Virus predicted 40 year ago in The eyes of darkness novel
 

40 साल पुरानी किताब में इस लेखक ने बता दिया था कोरोना वायरस का खौफ, वैज्ञानिक भी हैरान

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 February 2020, 17:15 IST

Coronavirus Book: कोरोना वायरस के कहर से चीन समेत पूरी दुनिया खौफ में है. अभी तक कोरोना वायरस के चपेट में आकर 1868 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा 70 हजार से ज्यादा लोग कोरोना वायरस की चपेट में आकर संक्रमित हैं. वहीं कोरोना वायरस को लेकर एक ऐसा खुलासा हुआ है जिसे जानकर वैज्ञानिक भी हैरान रह गए हैं.

सोशल मीडिया पर एक नॉवेल वायरल हो रहा है. इस नॉवेल में दावा किया जा रहा है कि 40 साल पहले ही एक लेकर ने अपनी किताब में कोरोना वायरस का जिक्र किया था. आज से लगभग 40 साल पहले लेखक ने अपनी किताब में कोरोना वायरस की भविष्यवाणी की थी. अपनी किताब में तब उन्होंने पहली बार 'कोरोना' शब्द का इस्तेमाल किया था.

यह किताब एक थ्रिलर उपन्यास है. इसका नाम 'द आइज ऑफ डार्कनेस' है. किताब को साल 1981 में डीन कोन्टोज़ ने लिखा था. उन्होंने किताब में 'वुहान-400' नामक एक वायरस का उल्लेख किया था. किताब में इस वायरस को प्रयोगशाला में एक हथियार के रूप में बनाने की बात कही गई थी.

इसे लेकर अब लोग लगातार ट्वीट कर रहे हैं. लोग उपन्यास में लिखी गई वो लाइन शेयर कर रहे हैं, जिसमें वुहान-400 वायरस का उल्लेख है. पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी ने भी अपने ट्विटर हैंडल से किताब के उस पन्ने को शेयर किया है. इस किताब के सामने आने के बाद वैज्ञानिक भी हैरान हैं. इस किताब में लिखी बातों को लोग अब मौजूदा कोरोना वायरस महामारी से जोड़ रहे हैं.

उत्तर प्रदेश: हेड कांस्टेबल ने मूंगफली के लिए ली थी 50 रुपये की रिश्वत, हो गया सस्पेंड

लोगों के खाते में 15-15 लाख रुपये डाल रही है मोदी सरकार, सुनकर बैंकों के बाहर लगी लंबी लाइनें

First published: 18 February 2020, 17:10 IST
 
अगली कहानी