Home » हेल्थ केयर टिप्स » Coronavirus: Clean hands with sanitizer again and again, it has a bad effect on health
 

सैनिटाइजर से बार-बार हाथ साफ करने वाले हो जाएं सावधान, स्वास्थ्य पर पड़ता है बुरा प्रभाव

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 March 2020, 17:19 IST

Corornavirus: चीन समेत दुनिया भर में कोरोना वायरस ने अपना खौफ फैला रखा है. इसकी चपेट में आकर 3000 से ज्यादा लोग दुनियाभर में मौत के मुंह में समा चुके हैं. इससे बचने के लिए हैंड सैनिटाइजर(Sanitizers) का इस्तेमाल करने और मास्क पहनने की सलाह दी जा रही है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि सैनिटाइजर का ज्यादा इस्तेमाल आपके लिए हानिकारक हो सकता है. 

यह सच है कि सैनिटाइजर के उपयोग से हाथों में पनपते कोरोना वायरस के कीटाणु को मारना आसान है, सैनिटाइजर हाथ साफ करने का सुविधाजनक तरीका भी है, लेकिन आपको इस बात का ख्याल रखना बेहत जरूरी है कि इसका उपयोग समझदारी से किया जाए. 

सैनिटाइजर के भारी नुकसान

हैंड सैनिटाइजर में ट्राइक्लोसान नामक एक केमिकल होता है. इस केमिकल को हाथ की स्किन सोख लेती है. अगर आप हैंड सैनिटाइजर का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं तो यह केमिकल आपकी त्वचा से हुते हुए आपके शरीर में जाता है और आपके खून में मिल जाता हैं. खून में मिलने के बाद सैनिटाइजर आपकी मांसपेशियों के को-ऑर्डिनेशन को नुकसान पहुंचाता है.

सैनिटाइजर के ज्यादा इस्तेमाल से आपकी त्वचा रूख जाती है. इससे बांझपन और हृदय रोग को न्योता मिलता है. इसलिए आपको अगर हाथ धोने की जरूरत महसूस होती है, तो साबुन और पानी से ही ज्यादा अपने हाथों को धोइए, सैनिटाइजर का इस्तेमाल कम करें.

हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने के बाद भले ही आपको लगता हो कि हाथ साफ हो गया है. लेकिन ऐसा नहीं होता. इससे फैट्स और शुगर जैसी चीजें साफ नहीं होती हैं. सैनिटाइजर का इस्तेमाल आप कब कर रहे हैं, इस बात का ध्यान रखना बहुत जरूरी है. अगर आपने बटर पॉपकार्न खाया है तो सैनीटाइजर इसे साफ करने के लिए काफी नहीं होता.

सैनिटाइजर्स मे बेंजाल्कोनियम क्लोराइड के घटक होते हैं. कीटाणुओ औऱ बैक्टीरिया को ये हमारे हाथ से बाहर जरूर कर देते हैं लेकिन ये आपकी त्वचा में प्रवेश कर जाते हैं. ये घटक हमारी त्वचा को प्रभावित करते हैं. इससे खुजली और जलन जैसी समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं. इसके अलावा कई सैनिटाइजर्स में विषैले तत्व होते हैं.

सैनिटाइजर में खुशबू के लिए फैथलेट्स नाम का रसायन इस्तेमाल में लाया जाता है. जिन सैनिटाइजर में इनकी मात्रा ज्यादा होती है, वो हमारे लिए काफी हानिकारक होते हैं. अत्यधिक खुशबू वाले सैनिटाइजर लीवर, किडनी, फेफड़े तथा प्रजनन तंत्र को नुकसान पहुंचाते हैं.
 
सैनिटाइजर के ज्यादा इस्तेमाल से आपकी त्वचा काफी ड्राई हो जाती है. इसमें अल्कोहल की मात्रा होती है, जिसकी वजह से बच्चों की सेहत पर बुरा असर पड़ता है. अगर बच्चे इसे नादानी से निगल लें तो यह काफी हानिकारक होता है. इसका ज्यादा प्रयोग बच्चों की इम्यूनिटी को भी घटाता है.
 
First published: 6 March 2020, 17:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी