Home » हेल्थ केयर टिप्स » Health benefits of Capsicum it is treats iron deficiency Anaemia and other
 

शिमला मिर्च खाने से होते हैं ये अद्भुत फायदे, खून की कमी को करती है दूर

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 February 2020, 14:11 IST

Health benefits of Capsicum: हरी सब्जियां (Green Vegetables) हमारी सेहत (Health) के लिए काफी फायदेमंद (Profitable) होती हैं. इनमें शिमला मिर्च (Capsicum) का भी काफी महत्व है. शिमचा मिर्च का इस्तेमाल सब्जी, नूडल्स (Noodles), सलाद (Salad) और बेकरी उत्पादों (Bakery Products) में किया जाता है. लेकिन क्या आप जानते हैं शिमला मिर्च खाने में न सिर्फ स्वादिष्ट होती है बल्कि ये एनीमिया (Anaemia) यानी खून की कमी को दूर करती है.

बता दें कि हाल ही में चन्द्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने रिकॉर्ड 300 ग्राम वजन वाली शिमला मिर्च तैयार की है. इसे वातानुकूलित पॉलीहाउस में उगाया गया है. यही नहीं इसे उगाने में किसी भी तरह के कैमिकल का इस्तेमाल नहीं किया गया है. इस शिमला मिर्च में विटामिन, फाइबर और बीटा कैरोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है. वैज्ञानिकों के मुताबिक इसका पौधा भी सामान्य पौधों से बड़ा है. यही नहीं एक पौधे पर 10-11 शिमला मिर्च लगती हैं.


बता दें कि आमतौर पर शिमला मिर्च का वजन अधिकतम 190 ग्राम तक हो जाता है. नई प्रजाति की एक शिमला मिर्च लगभग 300 ग्राम की है. यही नहीं इसका वजन और भी बढ़ सकता है. वेजिटेबल साइंस डिपार्टमेंट के चीफ डॉ. डीपी सिंह और वैज्ञानिक डॉ. राजीव के मुताबिक शिमला मिर्च की यह प्रजाति पहाड़ों पर पैदा होती है, मगर पॉलीहाउस तकनीक से इसका बेहतर उत्पादन लिया जा सकता है. फल गूदेदार, मोटा, घण्टीनुमा होत है जिसमें उभार कम है. तीखापन भी सामान्य की अपेक्षा कम या नहीं के बराबर है. किसानों को इसका डेमो दिखाया जाएगा ताकि उन्हें इसका लाभ मिल सके.

वैज्ञानिकों के मुताबिक, इस शिमला मिर्च में पोषक तत्वों को बढ़ाने के लिए जैविक खनिज तत्वों का छिड़काव किया गया है जिससे बोरान, आयरन और जिंक की मात्रा फल में बढ़ाई जा सके. इसका उत्पादन दो क्यारियों में किया गया है, लेकिन आमतौर पर इसे तीन क्यारियों में पैदा किया जाता है.

चीन में कोरोना वायरस से आम नागरिक ही नहीं 3019 डॉक्टर भी हो गए संक्रमित, अबतक 2,345 की मौत

वैज्ञानिकों का कहना है कि शिमला मिर्च के बीजों की बुआई करने से पूर्व जैविक ट्रीटमेंट दिया गया है. डॉ. राजीव ने बताया कि अभी यह जांच नहीं की गई है कि सामान्य की अपेक्षा खनिज तत्वों की मात्रा इसमें कितनी बढ़ी है.

कच्चे दूध के इन फायदों के बारे में नहीं जानते होंगे आप, दाग-धब्बों को खत्म करने के साथ होते ये फायदे

ऐसे करें अपने चेहरे और त्वचा की देखभाल, हर मौसम में बनी रहेगी आपकी खूबसूरती

बदलते मौसम में ऐसे करें खुद का बीमारियों से बचाव, न करें इन बातों को नजरअंदाज

First published: 22 February 2020, 14:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी