Home » हेल्थ केयर टिप्स » Health benefits of Ginger protect yourself by using ginger in winter season
 

बदलते मौसम में अदरक रखेगा आपका ख्याल, पास नहीं आने देगा ये बीमारियां

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 October 2019, 15:11 IST

बदलते मौसम में हम कई तरह की बीमारियों से पीड़ित हो जाते हैं. ऐसे में खुद की और परिवार का देखभाल करना जरूरी हो जाता है. इनदिनों भी मौसम तेजी से बदल रहा है. दिन में गर्मी और रात में सर्दी हो रही है. ये मौसम भी बीमारियों को बढ़ावा देता है. ऐसे मौसम में आप अदरक का इस्तेमाल कर खुद को बीमारियों से दूर रख सकते हैं. दरअसल, अदरक में औषधीय गुण पाये जाते हैं जो हमें ना सिर्फ बदलते मौसम में बल्कि सर्दियों में भी कई तरह की परेशानियों से बचाता.

अदरक खाने में स्वाद बढ़ाने के साथ ही कई बीमारियों से दूर रखने में भी हमारी मदद करता है. साथ ही बदलते मौसम में आपके पेट को दुरुस्त रखता है. अदरक के प्रयोग से खाना पचाने में आने वाली दिक्कतें दूर हो जाती हैं. इसके लिए आप अदरक पीसकर इसके रस को घी या शहद के साथ लें.

बता दें कि कई बार भोजन ठीक से न पचने पर पेट में गैस के कारण पेट व सीने में दर्द, भारीपन, ऐंठन, एसिडिटी और दस्त की समस्या हो जाती है. अदरक के सेवन से पाचन क्रिया ठीक होती है. अदरक, काली मिर्च और छोटी पीपली का चूर्ण बराबर भाग में मिलाकर दो ग्राम मात्रा में पुराने गुड़ के साथ मिलाएं. इसके सेवन से फेफड़ों और पेट के रोगों के उपचार में लाभ होता है. भोजन से पहले यदि अदरक का सेवन सेंधा नमक के साथ किया जाए, तो भूख भी बढ़ती है.

अदरक के प्रयोग से सिरदर्द दूर होता है. इसके लिए आपको अदरक के चूर्ण या इसके रस को गर्म पानी में मिलाकर हल्दी के साथ सिर पर इसका लेप करना चाहिए. सर्दी के मौसम में पेट या दांत में दर्द होने पर अदरक को चबाकर खाने से तुरंत लाभ मिलता है. दांत के दर्द में अदरक को लौंग के साथ चबाकर खाना अच्छा माना जाता है.

इसके अलावा खांसी, जुकाम, गले में खराश, गला बैठने जैसी परेशानियों में भी अदरक का प्रयोग करना चाहिए. इसके लिए अदरक को पीसकर घी या शहद के साथ लेना चाहिए. वहीं हिचकी आने पर अदरक के रस का सेवन शहद और तुलसी के साथ करें. यही नहीं सांस के रोगियों को शहद के साथ इसका रस देने से कफ पतला होता है और आराम मिलता है. साथ ही सर्दी के मौसम में अदरक व काली मिर्च के पांच दाने वाली चाय पीएं. तुरंत लाभ मिलेगा.

यही नहीं अदरक का प्रयोग करने से पीलिया में भी राहत मिलती है. इसके लिए अदरक का प्रयोग त्रिफला और गुड़ के साथ मिलाकर करना चाहिए. बता दें कि अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो आथ्राइटिस यानी जोड़ों के दर्द में राहत दिलाता है. पुराने जोड़ों के दर्द में अदरक का रस, अश्वगंधा चूर्ण, शैलाकी चूर्ण, हल्दी का चूर्ण बराबर-बराबर भाग में मिलाकर शहद के साथ सेवन कर बाद में गर्म दूध, चाय या गर्म पानी पीने से जोड़ों के दर्द में लाभ मिलता है.

वजन कम करने के लिए अपनाए ये टिप्स, बिना जिम जाए दो दिन में दिखाई दिखाई देने लगेगा असर

अगर आप भी करते हैं आलू का सेवन तो हो जाएं सावधान ! आपकी जान का दुश्मन बन सकता है इसे खाने का शौक

First published: 1 October 2019, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी