Home » हेल्थ केयर टिप्स » holi 2018 skin problems on holi chemical colors causes of skin problems
 

Happy Holi 2018: खतरनाक केमिकल्स मिले रंगो से ऐसे करें अपना बचाव

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 February 2018, 14:02 IST

होली का नाम सुनते ही हमारी आंखों के सामने रंग और गुलाल की तस्वीरें बनने लगती है. शायद ही ऐसा कोई ऐसा होगा जिसे रंगों से प्यार ना हो. होली पर सब एक दूसरे को रंग और गुलाल लगाते हैं. लेकिन कई बार ये रंग और गुलाल हमारी स्किन पर गलत प्रभाव डालते हैं.

क्योंकि इन रंगों में खतरनाक केमिकल्स मिले होते हैं. जो स्किन की कई परेशानियों को न्योता देते हैं. आज हम आपको केमिकल रंग और उनके नुकसान के साथ बचाव के बारे में भी बताएंगे. जिससे आप इस साल होली पर खूब रंग लगाएंगे.

ये भी पढ़ें- अमेरिकी मिलिट्री बेस में संदिग्ध लिफाफा खोलने से 11 बीमार

 

केमिकल रंगों से होने वाली परेशानियां

एलर्जी होने का खतरा
होली के रंग अक्सर केमिकल से बनाए जाते हैं. जिससे कुछ लोगों को ऐलर्जिक रिएक्शन हो सकते हैं. एलर्जी से स्किन आंखों, नाक और गले में जलन हो सकती है. वहीं कुछ लोगों को सर्दी, खांसी और सांस लेने तकलीफ भी हो सकती हैं. साथ ही दमा जैसे कई रोगों में परेशानियां बढ़ सकती हैं.

रंगों से हो सकती है आंखों में जलन

होली के बाद अक्सर लोगों को आंखों में परेशानियां बढ़ जाती हैं. इनमें जलन, खुजली, आंखों में अधिक पानी आना, रोशनी के प्रति अधिक संवेदनशीलता, आंखों में दर्द या लाल होने के लक्षण शामिल हैं.

रंगों से हो सकती है स्किन प्रॉब्लम्स

होली के रंगों में मौजूद केमिल्स हमारी त्वचा के लिए बहुत हानिकारक होते हैं. इन रंगों से खुजली, लालिमा, सूखापन, स्केलिंग, जलन का एहसास और फुंसियां हो सकती हैं. होली के रंगों का प्रभाव बालों पर भी पड़ सकता है. कई लोगों को होली के बाद बालों का झड़ना, सिर की स्किन पर खुजली, गंजापन, बालों का बेजान और रूखा होने जैसी समस्याओं का सामान करना पड़ता है.

स्किन कैंसर का बढ़ सकता है खतरा
होली के रंगों में इस्तेमाल होने वाले कुछ केमिकल्स आपके स्वास्थ्य के आधार पर स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का जोखिम बढ़ सकता है. इससे पैरालिसिस या लकवा, गुर्दे की खराबी और त्वचा के कैंसर जैसी समस्याएं जुड़ी हैं. इसलिए ऐसे रंगों का बिल्कुल प्रयोग ना करें जिनमें केमिकल मिले हों.

First published: 28 February 2018, 12:32 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी