Home » हेल्थ केयर टिप्स » How To Control High Blood Pressure By Using Home Remedies
 

हमेशा के लिए नॉर्मल हो जाएगा हाई ब्लड प्रेशर, करें इन चीजों का इस्तेमाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 September 2018, 19:59 IST

बदलती जीवन शैली ने इंसान को कई बीमारियों की सौगात भी दी है. इनमें कई बीमारियां ऐसी होती है जो थोड़ी सी देखभाल से ही सही हो जाती है, लेकिन कई बीमारियां हमारे लिए नाशूर बन जाती है और वो कभी खत्म नहीं होती. ऐसे में पीड़ित को पूरी जिंदगी दवाईयों का सहारा लेना पड़ता है. जिनमें से हाई ब्लड प्रेशर भी एक बड़ी समस्या लेकर हमारे सामने खड़ी है. आलम ये है कि आज 10 में से करीब 6 लोग हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित हैं.

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या खाने में पोषक तत्वों की कमी की वजह से होती है. अगर आप भोजन में हरी सब्जियों नहीं लेते और फ्राई फ्रूट्स ज्यादा लेते हैं तो आपको इस तरह की परेशानी हो सकती है. आज हम आपको कुछ ऐसी ही डाइट्स के बारे में बताएंगे जिनका सेवन कर आप अपने बीपी यानी हाई ब्लड प्रेशर को नॉर्मल रख सकते हैं.

पहले जानते हैं क्या होता है हाई ब्लड प्रेशर

जब आपके शरीर का बीपी 140/90 mm Hg या इससे अधिक हो तो आपको उच्च रक्त चाप यानि हाई बीपी की समस्या है. शरीर में खून का दबाव बढ़ जाने से दिल की धड़कन भी बढ़ जाती है, जिसे हम हाई ब्लड प्रेशर कहते हैं. इसका इलाज समय पर न होने से किडनी और दिल की बीमारी का खतरा भी बन जाता है. अपने भोजन में पोटाशियम से भरपूर फल और सब्जियां जैसे केला, फलियां, पालक शामिल करने से इसे काबू में किया जा सकता है.

हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित लोगों को इन सब्जियों का करना चाहिए इस्तेमाल

पालक

पालक में आयरन और कैल्शियम की भरपूर मात्रा होती है. पालक के सेवन से हाई बीपी के मरीजों को लाभ होता है.

आलू

आलू को छिलकों समेत उबालने से उनमें नमक की मात्रा घट जाती है, इसलिए बीपी के मरीजों को उबले हुए आलू खाने चाहिए. आलू में मौजूद पोटेशियम और मैग्नीशियम बीपी को नॉर्मल रखने में मददगार होता है.

लहसुन

अगर आपको हाईब्लड प्रेशर है तो रोजाना अपने खाने में लहसुन का इस्तेमाल करें. लहसुन से शरीर में नाइट्रिक ऑक्साइड की मात्रा बढ़ती है, जो खून के दबाव को कम करता है जिससे ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है.

लाल शलजम

बीपी के मरीज को अपने खाने में लाल शलजम का इस्तेमाल करना चाहिए. लाल शलजम में नाइट्रिक ऑक्साइड नाम का पदार्थ ब्लड वैसल्स को खोलता है. जिससे शरीर में खून का संचार सही रहता है.

शकरकंद

इसमें बीटा कैरोटीन, कैल्शियम और घुलनशील रेशे होते हैं, जो स्वाद के साथ दिमाग को भी शांत करते हैं. जिससे तनाव कम होता है. तनाव कम होने से बीपी नही बढ़ता.

ये भी पढ़ें- Janmashtami 2018 : व्रत के दौरान करें इन चीजों का करें सेवन, दिनभर बनी रहेगी एनर्जी

First published: 2 September 2018, 19:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी