Home » हेल्थ केयर टिप्स » how to sharp your baby brain, use egg for sharp mind, benefits of eaten egg
 

अपने बच्चे के भोजन में हर दिन ये चीज शामिल कर उसे बनाएं इंटेलिजेंट

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 February 2018, 14:20 IST

हर मां-बाप का सपना होता है कि उनका बच्चा पढ़ने में तेज हो. लेकिन कई बार बच्चे अपने मां-बाप के इन सपनों पर खरे नहीं उतर पाते. ऐसे में बच्चों के साथ मां-बाप भी चिंता में पड़ जाते हैं. उसके बाद शुरु होता है बच्चों को पढ़ाई में होशियार बनाने के लिए तरह-तरह के प्रयोग करते हैं. जिनमें ड्राई फ्रूट्स के साथ दवाईयां तक शामिल होती हैं.

आज हम आपको कुछ ऐसे ही नुस्के बताएंगे जिन्हें आप आसानी से प्रयोग कर सकते हैं

ये भी पढ़ें- ये होते हैं कैंसर के शुरुआती लक्षण, नजरअंदाज करना पड़ सकता है भारी

 

तेज दिमाग के लिए करें ये खास उपाय

बच्चों को बुद्धिमान बनाने के लिए उन्हें बेहतर पोषक तत्वों की जरूरत होती हैं. ऐसे में हम अपने बच्चों को फल और सूखे मेवे खिलाते हैं. लेकिन हर व्यक्ति की सामर्थ ऐसी नहीं होती, कि वह अपने बच्चों को ये सब कुछ खिला सके. ऐसे में बच्चों को अंडे खिलाना बेहतर विकल्प हो सकता है. क्योंकि अंडे के सेवन से बच्चों के मस्तिष्क विकास में मदद मिल सकती है. अंडा बेहतर पोषक तत्वों का स्रोत होता है.

रिसर्च में भी हुआ खुलासा अंडा है दिमाग के लिए कारगर

अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रीशन में प्रकाशित अनुसंधान में पाया गया, कि जिन बच्चों को अंडा खाने में दिया गया, उनकी कोलीन यानि विटामिन बी जैसा पोषक तत्व रक्त सांद्रता, डीएचए और अन्य मानक महत्वपूर्ण रूप से उच्च थे. ये पोषक तत्व बच्चों के मस्तिष्क विकास और कार्यप्रणाली में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं.

वाशिंगटन यूनिवर्सिटी की एक प्रोफेसर के मुताबिक दूध की तरह अंडे भी प्रारंभिक वृद्धि और विकास में काफी मददगार होते हैं और इनमें प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व होते हैं. अनुसंधान में छह से नौ महीने की उम्र के बच्चों को छह महीने तक एक अंडा रोजाना दिया गया. दूसरी तरफ नियंत्रित समूह में शामिल बच्चों को अंडे नहीं नहीं दिए गये. इसके बाद आए परिणाम बेहद चौकाने वाले थे. परिणामों से पता चला कि जिन बच्चों को 6 महीने की उम्र से अंडों का सेवन कराया से कराया गया, उनमें मस्तिष्क संबंधी प्रचुर वृद्धि देखने को मिली.

First published: 7 February 2018, 14:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी