Home » हेल्थ केयर टिप्स » impact of overtime and long work hours on human body
 

ऑफिस में करते हैं ओवर टाइम तो हो जाएं सावधान, हो सकती है ये गंभीर बीमारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 February 2018, 15:43 IST

बॉस की नजर में मेहनती बनने और वर्क लॉड की वजह से अक्सर लोगों को ओवर टाइम करते देखा जाता है. ऐसे में सवाल ये उठता है कि क्या ऑफिस में ओवर टाइम करना आपकी सेहत पर कोई प्रभाव डालता है. हम आज आपको दफ्तर में ओवर टाइम करने से होने वाली परेशानियों के बारे में बताएंगे.

ये भी पढ़ें- अगर रखना चाहते हैं अपने स्पर्म को तंदुरुस्त तो आज से शुरु करें ये काम

ओवर टाइम करने से क्या पड़ता है सेहत पर फर्क

इंसान का शरीर एक लिमिट तक ही वर्क लोड़ सहन कर सकता है. ऐसे में अगर कोई ज्यादा काम करने की कोशिश करता है तो उसे परेशानिया हो सकती है. शरीर को आराम ना मिलने की नजह से डिप्रेशन, पेट की समस्या, शुगर और दिमागी बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है.

 

अगर आप लेटनाईट तक काम करते हैं, रात को देर से सोते हैं, समय से पहले जागकर खाना खाते हैं तो आपको शारीरिक और मानसिक दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. इसलिए इन सब चीजों का विशेष ध्यान रखें.

ओवर टाइम करने से कैसे बचें

अगर आप चाहते हैं कि आप ऑफिस में ओवर टाइम ना करें तो आपको टाइम मैनेजमेंट पर काम करने की जरूरत है. इसके लिए समय से ऑफिस पहुंचकर सबसे पहले अपना खत्म करना शुरु करें. उसके बाद बचे हुए समय में आप अपने अगले दिन के काम को लेकर बातचीत कर सकते हैं, ताकि अगले दिन के काम के बारे में आपको सबकुछ पता चल जाए. जिससे अगले दिन आपको अपने काम को लेकर परेशान नहीं होना पड़ेगा. अगर आप अपने काम के लिए इसी तरह सतर्क रहेंगे तो आपको ओवर टाइम करने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

First published: 25 February 2018, 15:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी