Home » हेल्थ केयर टिप्स » International Yoga Day 2020: Pranayam making our respiratory system Strong
 

International Yoga Day 2020: कोरोना वायरस से बचाने में कारगर है ये योगासन

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 June 2020, 9:39 IST

International Yoga Day 2020: आज योग दिवस है पूरी दुनिया आज योग की शक्ति (International Yoga Day) को नमन कर रही है. कोरोना वायरस के असर के कारण इस बार योग दिवस पर कोई सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं हो रहा है और लोग अपने घरों में ही योग कर रहे हैं. वहीं इस दौरान पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा कि योग से कोरोना वायरस से लड़ा जा सकता है.

बता दें, कोरोना वायरस (Coronavirus) के असर के कारण पूरी दुनिया में अभी तक 80 लाख से अधिक लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं जबकि 4 लाख 63हजार से अधिक लोगों की इस वायरस के कारण मौत हो चुकी है. कोरोना वायरस की कोई दवा नहीं बनी है, ऐसे में यह वायरस और जानलेवा होता जा रहा है. हालांकि, योग के जरिए इस वायरस को हराया जा सकता है क्योंकि यह वायरस इसांन के रेस्परट्री सिस्टम पर हमला करता है और योग के जरिए हम अपने रेस्परट्री सिस्टम को मजबूत कर सकते हैं.


योग दिवस के दिन पीएम मोदी ने कहा,"योग एक स्वस्थ ग्रह के लिए हमारी खोज को बढ़ाता है. यह एकता के लिए एक शक्ति के रूप में उभरा है और मानवता के बंधनों को गहरा करता है. यह भेदभाव नहीं करता है, यह जाति, रंग, लिंग, विश्वास और वंश से परे है. विश्व आज कोरोना वायरस महामारी के कारण कारण योग की आवश्यकता को और अधिक महसूस कर रहा है. यदि हमारी प्रतिरक्षा मजबूत है, तो यह बीमारी से लड़ने में मदद करता है."

पीएम मोदी ने आगे कहा,"कोरोना वायरस खासतौर पर हमारे श्वसन तंत्र, यानि कि रेस्परट्री सिस्टम पर अटैक करता है. हमारे रेस्परट्री सिस्टम को स्ट्रांग करने में करने में जिससे सबसे ज्यादा मदद मिलती है वो है प्राणायाम, यानि कि ब्रीदिंग एक्सरसाइज."

घर बैठे करे प्राणायाम

प्राणायाम (Pranayam) के दौरान हमें श्वास धीमी गति से लेनी चाहिए(जितना संभव हो उतना गहरी) और बहुत धीरे धीरे और लगातार. इस दौरान हमें यह सोचना चाहिए कि आप ऊर्जा अपने शरीर में ले रहे हैं. सांस को अंदर लेने के बाद हमें उसे तब तक रोकना चाहिए जब तक हम उसे रोक पाएं. इस दौरान आपको यह सोचना चाहिए कि जो सांस (ऊर्जावान सांस) आपने ली हैं वो मस्तिष्क से लेकर आपके पैर पूरे शरीर को साफ कर रही है. इसके बाद हमें धीरे धीरे सांस छोड़नी चाहिए. इस दौरान हमें यह ध्यान रखना चाहिए की सांस छोड़ने की अवधि सांस लेने की अवधि से अधिक हो. सांस छोड़ने क दौरान हमें यह सोचना चाहिए कि हमारे शरीर से सभी अशुद्धियां बाहर निकल रही हैं.

International Yoga Day 2020: इस साल क्या है योग दिवस की थीम, जानें Yoga Day के बारे में सब कुछ

First published: 21 June 2020, 9:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी