Home » हेल्थ केयर टिप्स » Know The Benefits Of Bel Patra Or Bilva Leaves Uses As A Medicine
 

बेलपत्र के हैं बहुत सारे फायदे, इन खतरनाक बीमारियों को कर देता है जड़ से खत्म

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 August 2018, 10:44 IST

बेल के पेड़ को फल के साथ-साथ एक पवित्र पौधा भी माना जाता है. इसी लिए इसके पत्तों का इस्तेमाल पूजा-पाठ के दौरान किया जाता है. भगवान शिप पर भी बेल के पत्ते चढ़ाने की परंपरा है. सावन के महीने में भगवान शिव की आराधाना के दौरान बेलपत्र ही चढ़ाया जाता है.

बता दें कि बेल के पत्ते पूजा-पाठ में ही इस्तेमाल नहीं किए जाते बल्कि इनका इस्तेमाल दवाओं के रूप में भी किया जाता है. इसके सेवन से कई तरह की बीमारियों से छुटकारा मिलता है. आज हम आपको बेल के पत्ते और बेल के फल के फायदों के बारे में बताएंगे.

दिल के रोगियों के लिए भी फायदेमंद है बेलपत्र

अगर किसी को दिल की बीमारी है तो बेलपत्र का काढ़ा बनाकर उसका रोजाना सेवन करें. ऐसा करने से दिल की कार्यक्षमता बढ़ती है और दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है. बेलपत्र का नियमित सेवन करने से हार्ट अटैक का खतरा कम हो जाता है.

बवासीर में भी आराम दिलाता है बेलपत्र
बवासीर से पीड़ित मरीजों को भी बेलपत्र का सेवन आराम दिलाता है. अगर आप खूनी बवासीर से पीड़ित हैं तो बेल की जड़ का गूदा पीसकर उसमें बराबर मात्रा में मिश्री मिला लें और इसका चूर्ण बना लें. इस चूर्ण का सेवन रोजाना सुबह और शाम ठंडे पानी के साथ करें साथ ही ज्यादा मसालेदार चीजें ना खाएं. कुछ ही दिनों में आपको बवासीर से राहत मिल जाएगी.

बुखार में बेल की पत्तियों के फायदे

प्राचीन काल से ही बेल का सेवन औषधीय रूप में किया जाता रहा है. आयुर्वेद के अनुसार बेल की पत्तियों का सेवन बुखार से राहत दिलाता है. खासतौर पर सर्दी-जुकाम होने पर जब बुखार आता है. उस दौरान बेल की पत्तियों का काढ़ा बुखार को कम करने में बहुत उपयोगी साबित होता है.

छालों से निजात दिलाता है बेलपत्र

बेलपत्र का सेवन मुंह के छालों से भी राहत दिलाता है. गर्मी के दिनों में मुंह में छालों की समस्या अधिक होती है. जिसकी वजह से कुछ भी खाने में मुंह में जलन होने लगती है. इन छालों से आराम पाने के लिए बेल की पत्तियों को धोकर उन्हें चबाकर खाने से छाले जल्द ठीक हो जाते हैं.

पेट के कीड़ों को खत्म करता है बेलपत्र

बेलपत्र का सेवन पेट के कीड़ों को भी खत्म करता है. वैसे आमतौर पर बच्चे पेट में कीड़े पड़ने की समस्या अधिक होती है. जिसकी वजह से उन्हें दस्त की समस्या भी हो जाती है. ऐसे में बेल पत्र का रस पीना बहुत फायदेमंद होता है. इससे पेट के कीड़े जल्दी मर जाते हैं और दस्त से भी आराम मिलता है. आयुर्वेद के मुताबिक बेलपत्र का सेवन इसके अलावा भी कई बीमारियों में राहत देता है.

ये भी पढ़ें- युवाओं में 30 साल की उम्र के बाद तेजी से बढ़ रहा है ब्रुगाडा सिंड्रोम का खतरा

First published: 20 August 2018, 10:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी