Home » हेल्थ केयर टिप्स » Know the health benefits of eating onion
 

पुरुषों के लिए वरदान से कम नहीं है प्याज का सेवन, इन बीमारियों के लिए है काल

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 September 2019, 16:12 IST

प्याज को हम सब्जी बनाने और सलाद में इस्तेमाल करते हैं. प्याज का इस्तेमाल सब्जियों का स्वाद बढ़ाने के लिए भी किया जाता है. लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि प्याज का औधषीय गुण भी होता है. आज हम आपको प्जाय के औषधीय गुणों के बारे में बताने जा रहे हैं. जिन्हें जानकर अगर आप प्याज का इस्तेमाल नहीं करते तो यकीनन आप प्याज का इस्तेमाल करना शुरु कर देंगे.

ये हैं प्याज खाने के फायदे

प्याज में कई एंटीऑक्सीडेंट यौगिक होते हैं जो मानव शरीर में मौजूद मुक्त कणों को निष्क्रिय करने में बहुत प्रभावी होते हैं. प्याज का प्रयोग औषधि के रूप में सदियों के होता रहा है. प्याज की खेती भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया के हर देश में की जाती है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी पुष्टि की थी कि प्याज कम भूख वाले और एथरोस्क्लेरोसिस से पीड़ित लोगों के लिए फायदेमंद होता है. स्वास्थ्य विशेषज्ञ इस तथ्य को स्वीकार करते हैं कि प्याज से पुराने अस्थमा, एलर्जी ब्रोंकाइटिस, आम सर्दी से संबंधित खांसी और कफ सिंड्रोम वाले रोगियों के लिए बहुत ही अच्छा इलाज होता है.

प्याज में कई तरह के पोषक तत्व, विटामिन, खनिज और आर्गेनिक यौगिक मौजूद होते हैं. इनमें कैल्शियम, मैग्नीशियम, सोडियम, पोटेशियम, सेलेनियम और फास्फोरस जैसे खनिज होने के साथ-साथ यह विटामिन सी, विटामिन बी 6 और फाइबर का एक अच्छा स्रोत होता है. प्याज ऐसे अनुकूली पौधों में से एक है जो हमारे शरीर की जरूरतों के लिए अधिकतम आवश्यक पोषक तत्वों का एक बड़ा स्रोत है. प्याज में थियोसल्फिनेट्स और थियोसल्फोनेट्स होते हैं जो दांतों को खराब करने वाले बैक्टीरिया को कम करने में मदद करते हैं.

प्याज को कच्चा खाना सबसे अच्छा माना जाता है क्योंकि पकाने के बाद इनमे मौजूद कुछ फायदेमंद यौगिक नष्ट हो जाते हैं. प्याज में विटामिन सी होता है जो दांतों को स्वस्थ रखने में मदद करता है. ऐसा भी माना जाता है कि प्याज दांत के दर्द से छुटकारा दिलाती है. प्याज का उपयोग अक्सर दांत क्षय और मुंह के संक्रमण को रोकने के लिए किया जाता है. कच्चे प्याज को 2 से 3 मिनट चबाने से मुंह के क्षेत्र के साथ साथ गले और होंठ के आसपास के स्थानों में मौजूद रोगाणुओं को संभावित रूप से नष्ट किया जा सकता है.

प्याज में मौजूद फाइटोकेमिकल्स शरीर के अंदर विटामिन सी को बढ़ाने का काम करते हैं. हमारे शरीर की रक्षा तंत्र हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली है और एक स्वस्थ प्रतिरक्षा प्रणाली हमें बैक्टीरिया, कवक और वायरल संक्रमण के कारण होने वाली बीमारियों से बचाती है. प्याज का सेवन करने से शरीर में विटामिन सी की मात्रा बढ़ जाती है जिसके कारण आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत हो जाती है. क्योंकि विटामिन सी आपके प्रतिरक्षा प्रणाली को विषाक्त पदार्थों और विभिन्न प्रकार के बाहरी हानिकारक तत्वों से बचाता है. ये विषाक्त पदार्थ और बाहरी हानिकारक तत्व बीमारी का कारण बन सकते हैं. प्याज एक मजबूत प्रतिरक्षा बनाने में मदद करती है.

इसके अलावा प्याज एक स्वस्थ सेक्स जीवन की इच्छा को बढ़ाने के लिए जाना जाता है. एक चम्मच अदरक के रस के साथ एक बड़ा चम्मच प्याज का रस दिन में तीन बार लेने से कामेच्छा और सेक्स ड्राइव को बढ़ा सकता है. प्याज पश्चिमी यूगांडा में नपुंसकता के लिए इस्तेमाल की जाने वाली औषधीय दवाओं में से एक है. प्याज को पुरुषों के लिए लाभदायक माना जाता है. शहद के साथ प्याज का रस लेना पुरुषों में प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में भी मदद कर सकता है.

मोटापे को दूर करता है इस चीज का सेवन, शरीर भी रहता है मजूबत, ब्रेकफास्ट में लेना कर दें शुरु

प्याज कई प्रकार के यौगिकों से समृद्ध होता है जो कैंसर कोशिकाओं के विकास और प्रसार को सफलतापूर्वक रोकता है. क़ुएरसेटीं एक बहुत ही शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट यौगिक है जो कैंसर के प्रसार की रोकथाम के लिए जाना जाता है. प्याज में एक महत्वपूर्ण मात्रा में क़ुएरसेटीं होता है. विटामिन सी भी एक मजबूत एंटीऑक्सीडेंट है जिससे शरीर में मुक्त कणों की मौजूदगी और प्रभाव कम हो सकता है.

अगर आप भी करते हैं आलू का सेवन तो हो जाएं सावधान ! आपकी जान का दुश्मन बन सकता है इसे खाने का शौक

मुक्त कण सेलुलर चयापचय के रासायनिक उप-उत्पाद (byproducts) हैं और वे कैंसर कोशिकाओं को स्वस्थ कोशिकाओं में बदल कर सकते हैं. इसलिए एंटीऑक्सीडेंट से समृद्ध कोई भी खाद्य पदार्थ हर किसी के लिए फायदेमंद होते हैं. क्योंकि प्रत्येक व्यक्ति ऑक्सीडेटिव तनाव के कारण इस आंतरिक हमले के लिए अतिसंवेदनशील होता है. इसलिए एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य पदार्थ इन मुक्त कणों को बेअसर करते हैं.

आपकी जिंदगी पर भारी पड़ सकता है लौकी खाने का शौक, जानिए क्या हैं इसके फायदे और नुकसान

First published: 30 September 2019, 16:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी