Home » हेल्थ केयर टिप्स » Lockdown: During work from home this disease is spreading in people fast, be alert immediately
 

लॉकडाउन: 'वर्क फ्रॉम होम' के दौरान लोगों में तेजी से फैल रही ये बीमारी, तुरंत हो जाएं सावधान

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 April 2020, 17:10 IST

Coronavirus Lockdown: कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण देश में पिछले 23 दिनों से लॉकडाउन है. इस बीच ज्यादातर कंपनियों के कर्मचारी घर पर बैठकर ऑफिस का काम यानि 'वर्क फ्रॉम होम' कर रहे हैं. इस बीच एक रिसर्च में खुलासा हुआ है कि वर्क फ्रॉम होम करने से कर्मचारियों में एक बीमारी तेजी से फैल रही है. यह लॉकडाउन के दौरान घर से काम करने वाले लोगों के लिए बुरी खबर की तरह है.

दरअसल, देश में पिछले 24 मार्च से लॉकडाउन की स्थिति है. इससे पहले ही कई कंपनियों ने कोरोना वायरस के खौफ को देखते हुए अपने कर्मचारियों को लैपटॉप तथा कंप्यूटर पर घर से काम करने को कह दिया था. लॉकडाउन में प्राइवेट कंपनियों से लेकर कई सरकारी कंपनियों और मीडिया सेक्टर के लगभग 70 प्रतिशत कर्मचारी घर से ही काम कर रहे हैं.

एक रिसर्च के अनुसार, घर से काम करने के दौरान कर्मचारियों में मानसिक तनाव तेजी से बढ़ रहा है. भारत जैसे देश के लोगों में यह बीमारी तेजी से फैल रही है. इसका सबसे बड़ा कारण है दूर-दराज के इलाकों में इंटरनेट की समस्या. कर्मचारियों को अपना काम करने के लिए इंटरनेट एक्सेस सही ढंग से मिल नहीं पा रहा है, लेकिन उन्हें अपना काम किसी तरह करके देना है.

सही समय पर काम न कर पाने की स्थिति में कर्मचारियों को अपने बॉस की खरी-खोटी सुनने को मिल रही है. इसके अलावा इंटरनेट के लिए उन्हें अपने वर्किंग ऑवर से ज्यादा काम करना पड़ रहा है. इसमें न वह अपने स्वास्थ्य का ध्यान रख पा रहे हैं और घर वालों के साथ होते हुए भी वह घर वालों के साथ समय नहीं बिता पा रहे. इसकी वजह से घर में भी कलह बना रहता है.

रिसर्च के अनुसार, विकसित देशों की तुलना में भारत में तनाव का स्तर अधिक है. देश की लगभग 89 प्रतिशत आबादी का मानना है कि वे 86 प्रतिशत के वैश्विक स्तर की तुलना में तनाव से अधिक पीड़ित हैं. आठ में से एक व्यक्ति को तनाव से निपटने में गंभीर रूप से दिक्कत का भी सामना करना पड़ता है. 

रिसर्च भारत समेत अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी, फ्रांस, चीन, ब्राजील और इंडोनेशिया आदि देशों में किया गया, इन सारे देशों में अभी फिलहाल लॉकडाउन की स्थिति है और इसमें 14,467 ऑनलाइन साक्षात्कार लिए गए. रिसर्च में पांच प्रमुख क्षेत्रों- शारीरिक, पारिवारिक, सामाजिक, वित्तीय एवं कार्य- में स्वास्थ्य के बारे में चिंताएं तलाशी गईं.

अगर आप भी है अपने बढ़ते वजन से परेशान तो ऐसे पाएं निजात, चंद दिनों में दिखेगा असर

गलती से भी अंडे का सेवन करने के बाद ना खाएं ये चीजें, वरना पड़ सकता है महंगा

अंडे को बिना पकाए खाने के हैं गजब फायदें, जानकर हैरान हो जाएंगे आप

First published: 16 April 2020, 17:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी