Home » हेल्थ केयर टिप्स » Most Common mistakes people doing during Winter
 

सर्दियों के दौरान भूलकर भी ना करें ये गलतियां, नहीं तो हो सकते हैं परेशान

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 November 2020, 0:07 IST

सर्दियों की शुरूआत हो चुकी है. राजधानी दिल्ली समेत देश के कई हिस्सों में मौसम का मिजाज बदल रहा है. मौसमी बदलाव हमारे शरीर को कई तरह से प्रभावित करते हैं. सर्दियों के दौरान लोग फ्लू या इंफेक्शन के शिकार जल्द हो जाते हैं और ऐसे में व्यक्ति को अपने इम्यून सिस्मट को दुरुस्त रखना बहुत जरूरी होता है. हालांकि, लोग ये तमाम बाते हैं लेकिन फिर भी अपने सेहत के साथ खिलवाड़ करने से पीछे नहीं हटते हैं. लेकिन कई बार छोटी-छोटी भूल के बड़ी परेशानी खड़ी होती है और व्यक्ति गंभीर बीमारियों का शिकार हो जाता है.

सर्दियों के दौरान कम पानी पीना


वैसे तो मौसम का हमारी प्यास से कोई लेना-देना नहीं होता है, लेकिन सर्दियों के दौरान इंसान को प्यास अधिक नहीं लगती है और ऐसे में व्यक्ति पानी पीना कम कर देता है, जोकि बिल्कुल गलत है. ब्रिटिश डायटेटिक एसोसिएशन के अनुसार, हमारे शरीर को हाइड्रेटेड रहने के लिए सर्दियों के दौरान कम से कम पूरे दिन में दो लीटर पानी की आवश्यकता होती है.

देर तक गर्म पानी से नहाना

कई बार लोग सर्दियों में गर्म पानी से काफी देर तक शावर लेते हैं. ऐसे करने के दौरान वो अनजाने में अपनी स्किन सेल्स को डैमेज कर रहे होतो हैं. इसके कारण उनकी त्वचा में खुजली, ड्रायेनस और रैशेस की समस्या बढ़ जाती है. गर्म पानी से अधिक समय तक नहाने से हमारी बॉडी और त्वचा दोनों पर इसका बुरा असर पड़ता है.

बहुत अधिक कपड़े पहनना

सर्दियों के दिनों में लोग अपने आप को गर्म रखने के लिए अधिक से अधिक गर्म कपड़े पहनते हैं. भले ही इससे उन्हें आराम मिलता हो, लेकिन ऐसा करना हमारे लिए जोखिम भरा होता है. दरअसल, जब हमें ठंड लगती है तो हमारा इम्यून सिस्टम व्हाइट ब्लड सेल्स प्रोड्यूस करता है, जो इंफेक्शन और बीमारियों से हमारी सुरक्षा करते हैं. लेकिन शरीर के अत्याधिक गर्म हो जाने के कारण इम्यून सिस्टम अपना काम नहीं कर पाता है और हम आसानी से किसी बीमारी का शिकार हो जाते हैं.

सोने से पहले हाथ और पैरों को ग्लव्स से ठके

सोने से पहले हमे रात में अपने हाथों और पैरों को ग्लव्स और जुर्राब से अच्छी तरह से कवर कर लेना चाहिए. ऐसा करना सेहत के लिए अच्छा होता है. एक शोध के अनुसार, ऐसा करने से स्लीपिंग क्वालिटी इम्प्रूव होती है. हालांकि, कुछ शोध ऐसे भी हैं जिसमें दावा किया गया है कि रात में सोते समय हमें पैरों में जुर्राब पहनकर नहीं सोना चाहिए क्योंकि इससे हमारा ब्लड सर्कुलेशन बिगड़ जाता है.

First published: 22 November 2020, 23:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी