Home » हेल्थ केयर टिप्स » Navratri special health news These type of people should avoid fasting
 

नवरात्रि स्पेशलः ऐसे लोगों के लिए खतरनाक है व्रत रखना

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 September 2017, 13:35 IST

कुछ एेसे लोग भी होते हैं जिन्हें उपवास करने से बचना चाहिए क्योंकि कुछ बीमारियां ऐसी होतीं हैं, जिनमें उपवास करना स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव डाल सकता है.

धार्मिक मान्यताओं के साथ ही उपवास का वैज्ञानिक महत्त्व भी होता है. उपवास करना कई मायनों में लाभदायक होता है. लेकिन कुछ एेसे लोग भी होते हैं जिन्हें उपवास करने से बचना चाहिए. इसके पीछे कई कारण हैं. इनमें सबसे ज्यादा जरूरी है कि कमजोर और अशक्त लोग उपवास न रखें.

1. बच्चों, बुजुर्गों और गर्भवती स्त्रियों को उपवास नहीं करना चाहिए. सही तरीके से उपवास नहीं करने से कई गंभीर रोग जैसे सोरायसिस, पेट की सूजन, एग्जिमा, गठिया आदि भी हो सकते हैं.

2. डायबिटीज के मरीजों के लिए यह जरूरी होता है कि वे समय पर खाना और दवाई खाएं. इसलिए भूखे रहने से इनकी तबीयत खराब हो सकती है.

3. उच्च रक्तचाप (हाई बल्ड प्रेशर) को रोगियों को उपवास करने से बचना चाहिए. जिन लोगों को उच्च रक्तचाप हो यदि वे उपवास रखेंगे तो उनकी पूरी बॉडी का सिस्टम भी गड़बड़ा जाता है. इसलिए ये लोग उपवास न करें.

4. दिल के मरीजों को भी उपवास नहीं रखना चाहिए. दिल के मरीज उपवास के दौरान खाने-पीने पर ध्यान नहीं देते और उनका शरीर ठीक से काम नहीं करता है. इसलिए उन्हें उपवास करने से बचना चाहिए.

5. फेफड़ों के मरीज भी उपवास करने से बचें. जिन लोगों को किडनी से जुड़े रोग होते हैं, वो यदि उपवास कर लें तो किडनी फेल होने का खतरा भी रहता है. एनीमिया (शरीर में खून की कमी) है तो उपवास रखने से आपको थकान और कमजोरी होने लगेगी. इसलिए बेहतर है कि उपवास न ही रखें.

6. लिवर से जुड़ी समस्याएं हों, तब भी उपवास करने से बचें क्योंकि ऐसा करने से लिवर फेलियर हो सकता है. यदि जल्द ही आपकी सर्जरी हुई है तो शरीर को जरूरी विटामिंस और मिनरल्स की जरूरत होती है. इसलिए इस दौरान उपवास करना नुकसानदायक होगा.

7. गर्भवती महिलाएं भी उपवास से बचें. गर्भावस्था के दौरान किसी भी महिला को अधिक मात्रा में पौष्टिक आहार की जरूरत होती है. इस दौरान उपवास करना मां और होने वाले बच्चे दोनों के लिए खतरनाक हो सकता है. यदि आप ब्रेस्ट फीडिंग कराती हैं तो उपवास न करना ही बेहतर है. उपवास करने से बच्चे को आवश्यक पोषक तत्व नहीं मिल पाएंगे और उसके विकास में बाधा आएगी.

First published: 23 September 2017, 13:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी