Home » हेल्थ केयर टिप्स » side effects of smartphone on brain
 

मोबाइल,लैपटॉप का इस्तेमाल करने वाले इन लक्षणों से रहें सतर्क,हो सकते हैं इन बड़ी बीमारियों का शिकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 January 2020, 18:10 IST

यदि आप भी उन लोगों में से हैं जिन्हें लगता है कि उनकी पारिवारिक, सामाजिक और पेशेवर जिंदगी में जरा सा भी संतुलन नहीं हैं. ऐसे में उनको थोड़ा डिजिटल दुनिया से दूर रहने की जरूरत है. कई रिसर्च और अध्ययन में ये बात सामने आई है कि मोबाइल, लैपटॉप, टीवी और दूसरे डिजिटल जैसे उपकरणों के साथ ज्यादा वक्त रहने से शारीरिक और मानसिक सेहत के लिए हानिकारक होते हैं.

ये डिजिटल उपकरणों की आदत से निजात पाने को डिजिटल डिटॉक्स कहा जाता है. डिजिटल डिटॉक्स के साथ ही फोमो की मुसीबत जुड़ी हुई है. फोमो का मतलब होता है अकेले छूट जाने का एक डर. जब हम डिजिटल डिटॉक्स की बात करते हैं, तो आखिरी हल यही होता है कि स्मार्टफोन, लैपटॉप से दूर रहें. लेकिन इस दूरी से ये भी डर लगने लगता है कि जब हम इंटरनेट की दुनिया से दूर होंगे तो उस दौरान अन्य लोगों को पता नहीं क्या क्या नई, रोचक और मजेदार चीजें जानने को मिलेंगी और हम इस सुख से वंचित रह जाएंगे. इसके लिए आप को कुछ टिप्स फॉलो करने होंगे.

 

आपको ज्यादा से ज्यादा दोस्त, सेहत और पेशा चार ऐसी चीजें हैं, जहां पर शख्स को सबसे ज्यादा ध्यान या आकर्षण बनाए रखने की जरूरत होती है. मोबाइल पर इन चारों के अलावा और सबी तरह की चीजों से दूर रहें.इसी के साथ आमतौर पर मोबाइल का हाथ में होना हमें भटकाता है. वक्त मोबाइल में ज्यादा बिताने से अच्छा है कि हम ध्यान दें कि आपके साथ और आसपास क्या हो रहा है.

वहीं हम सभी की सेहत के लिए आठ घंटे की नींद बहुत जरूरी है. मोबाइल पर दोस्ती निभाने से अच्छा है किी हम अपने स्वास्थ्य, परिवार और अपने दोस्तों को दें.घर के सभी लोग घर में एक ऐसा कोना बनाए जहां कोइ भी डिजिटल उपकरण न हों. यदि ऐसा नहीं हो पा रहा है तो कोई बात नहीं आप एक दिन मोबाइल डे जरूर बनाए

रिसर्च के मुताबिक एक व्यक्ति दिन में 200 बार फोन चेक करता है. यानी की हर छह मिनट तीस सेकंड में फोन चेक करता है. 16 से 24 वर्ष आयु के 70 फीसदी लोग कॉल कर बात करने के बजाय टेक्स्ट या चैट करना पसंद करते हैं. वहीं एक किशोर मोबाइल धारक एक महिने में औसतन 3400 मैसेज अपने बिस्तर पर लेटे हुए भेजता है.

Hot Tea Side Effects : अगर आप भी पीते हैं गर्म चाय तो हो जाइए सावधान, वरना हो सकती है ये जानलेवा बीमारी

 

First published: 14 January 2020, 18:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी