Home » हेल्थ केयर टिप्स » Tree Sleeping Position For health Fitness
 

जीवनभर इन समस्याओं से रहना है दूर तो सोने का अपनाएं ये तरीका, होगी खतरनाक बीमारी दूर

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 April 2019, 15:11 IST

इंसान को शारिरीक और मानसिक रूप से स्वस्थ्य रहने के लिए अच्छी नींद लेना बहुत जरूरी होता है. अगर हम 8 घंटे की नींंद नहीं लेते, तो जीवन में कई तरह की समस्या से गुजरना पड़ता है. सोने के साथ-साथ आरामदायक पॉजीशन में सोना भी हमारे स्वास्थ के लिए बेहत जरूरी होता है.

डॉक्टर्स के मुताबिक, अगर आप सही पॉजीशन में सोते हैं तो आपको हड्डी खिसकने, तब नस दबने, स्लिप डिस्क और दर्द जैसी समस्याएं कम होंगी. चलिए जानते हैं सोने के कुछ पॉजीशन के बारे में जिससे आप स्वस्थ रहें-

पेट के बल सोना

पेट के बल सोने से वैसे तो डॉक्टर्स मना करते हैं, लेकिन अगर आपको खर्राटे आते हैं, तो पेट के बल सोने से खर्राटे कम आएंगे. वहीं, इसके विपरीत ऐसा माना जाता है कि अगर पेट के बल कोई सोता है तो इससे रीढ़ के नैचुरल कर्व में कोई सपोर्ट नहीं मिल पाता है. जिसकी वजह से जोड़ों, मांसपेशियों पर दबाव पड़ता है और इससे गर्दन और पीठ का दर्द बढ़ सकता है.

करवट लेकर सोना

करवट लेकर सोना सोने का सबसे बेहतर तरीका माना जाता है. सेहत के हिसाब से करवट लेकर सोना अच्छा माना जाता है.  स्टडी के अनुसार, करवट लेकर सोने से पार्किंसन्स और अल्जाइमर जैसी न्यूरो समस्या नहीं होती है.

सावधान! खड़े होकर गलती से भी ना पीएं पानी, वरना हो सकती है ये गंभीर बीमारी

गर्भवती महिलाओं को खासकर करवट लेकर सोने को कहा जाता है.  अमेरिकन प्रेग्नेंसी एसोसिएशन के अनुसार, महिलाओं को प्रेग्नेंसी के दौरान बाईं ओर करवट लेकर सोना चाहिए. 

पीठ के बल
पीठ के बल सोते समय आपकी बॉडी के नैचुरल कर्व को गद्दे से सपोर्ट मिलता है. आपके वजन का बल पूरे शरीर पर एक समान पड़ता है और सिर, गर्दन, रीढ़ की हड्डी एक सीध में रहते हैं. लेकिन पीठ के बल सोते वक्त इस बात का खास ख्याल रखें कि आपके रीढ़ का नैचुरल कर्व डिस्टर्ब न हो. कोशिश करें कि आप बिना तकिया लगाए सोएं या घुटनों के नीचे तकिए का इस्तेमाल कर सकते हैं.

नाश्ता स्किप करना आपके लिए पड़ सकता है भारी, हो सकती है जानलेवा बीमारी

First published: 22 April 2019, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी