Home » हेल्थ केयर टिप्स » Why you should not eat eggplant in monsoon
 

सावधान! इन लोगों को मॉनसून में भूलकर भी नहीं खाना चाहिए बैंगन, वरना पड़ सकता है महंगा

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 August 2019, 16:10 IST

बरसात के सीजन में खान-पान का विशेष ख्याल रखना चाहिए. इस मौसम में कीटाणुओं के फैसलने की संभावना काफी अधिक होती है. क्योंकि धूप कम निकलने की वजह से कीटाणु ज्यादा समय तक जिंदा रहते हैं. ऐसे में हमें उन चीजों से दूर रहना चाहिए, जिसमें अधिक कीटाणु पनपते हैं.

इस मौसम में फल और सब्जियों को खाते वक्त विशेष सावधानियां बरतनी चाहिए. अगर आप बारिश के सीजन में बैंगन खाते हैं, तो जरा संभल जाएं. बैंगन सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है, लेकिन बारिश में खाने से ये उतना ही ज्यादा नुकसानदायक साबित होता है. इसलिए बारिश के सीजन में बैंगन से दूरियां बना लेनी चाहिए.

आयुर्वेद के मुताबिक, बारिश के सीजन में बैंगन से दूरियां बना लेनी चाहिए. उनका मानना है कि बैंगन अशुद्ध सब्जियों की श्रेणी में आता है. इससे एलर्जी ज्यादा जल्दी हो जाती है. इसलिए बारिश के सीजन में बैंगन से दूरियां बना लेनी चाहिए. क्योंकि इस समय कीटाणु काफी तेजी से फैलते हैं.

खासकर बारिश के सीजन में गर्भवती महिलाओं को बैंगन से परहेज करना चाहिए. क्योंकि बैंगन खाने से प्राकृतिक रूप से मूत्र अधिक बनने लगती है. जिस वजह से भ्रूण को नुकसान पहुंच सकता है. बैंगन में नेनुसिन नामक तत्व पाया जाता है, जो इसका प्रमुख जिम्मेदार माना जाता है.

दूध और केला साथ खाने वाले हो जाएं सर्तक, वरना ये बन सकता है जहर

वहीं, जिन लोगों को तनाव और अवसाद ही समस्या होती हैं. उन्हें भी बैंगन से दूरी बना लेनी चाहिए. क्योंकि इससे उन लोगों को दवा का असर नही होता. साथ ही पथरी की समस्या से ग्रसित लोगों को भी बैंगन से परहेज करना चाहिए. बैंगन में ओक्जेलेट नामक तत्व पाया जाता है, जो पथरी की समस्या को बढाता है. पाचन तंत्र के रोगियों को भी बैंगन से दूरियां बना लेनी चाहिए.

खीरा टमाटर का सलाद खाने वाले हो जाएं सावधान! हो सकता है ये भारी नुक़सान

 

First published: 7 August 2019, 16:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी