Home » हेल्थ केयर टिप्स » World Cancer Day 2019 Women should check Immediately if these signs see in your body
 

अगर महिलाओं में दिखें ये लक्षण तो तुरंत कराएं जांच, जानलेवा कैंसर की हो सकती है दस्तक

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 February 2019, 15:12 IST

आज पूरी दुनिया कैंसर डे मना रही है. इस दिन को मनाने की शुरुआत साल 2008 में कैंसर के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए हुई थी. तब से लेकर आज तक हर साल 4 फरवरी का दिन वर्ल्ड कैंसर डे के रूप में सेलिब्रेट किया जाता है. वर्ल्ड कैंसर डे के मौके पर हम आपको महिलाओं में होने वाले कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर के अलावा अन्य कैंसर, उनके लक्षण और परीक्षणों के बारे में जानकारी देंगे.

बता दें कि भारत में महिलाओं में पाया जाने वाला सबसे कॉमन कैंसर हैं ब्रेस्ट कैंसर, सर्विक्स का कैंसर, ओवेरियन कैंसर, लिप एंड ओरल कैविटी और कोलोरेक्टल कैंसर हैं. यदि कैंसर के लक्षणों को वक्त रहते पहचान लिया जाए तो इलाज से इसे मात दी जा सकती है. लेकिन थोड़ी सी लापरवाही उन्हें मौत के मुंह में धकेल देती है.

कैंसर विशेषज्ञों का कहना है कि अगर महिलाओं में कुछ संकेत नजर आएं तो इन्हें नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. जो इस प्रकार हैं. अगर बाजुओं के नीचे यानि आर्मपिट या ब्रेस्ट में दर्द रहित गांठ महसूस हो तो इसे बिल्कुल नजरअंदाज ना करें. साथ ही निपल से बिना वजह डिस्चार्ज आना या त्वचा का पकने पर डॉक्टर तुरंत जांच कराएं. वहीं महिलाओं को मासिक धर्म संबंधी उतार-चढ़ाव पर भी ध्यान रखना चाहिए. क्योंकि अब ये सामान्य लक्षण नहीं हैं. इसके अलावा अकारण रक्त आने को भी गंभीरता से लेना चाहिए.

अगर किसी महिला के पेट के निचले हिस्से में कुछ समय से भारी पर महसूस हो रहा है या आंतों से जुड़ी परेशानी बार-बार हो रही है तब भी डॉक्टर को दिखाएं. इसके अलावा मलद्वार से खून आना या पेशाब में खून आना भी कैंसर के लक्षण हो सकते हैं. क्योंकि अगर ऐसा बार-बार हो रहा है तो डॉक्टर से तुरंत जांच कराएं.

अगर किसी को गले में सूजन या मुंह के अंदर हुआ छाला ठीक होने में दिक्कत हो रही है तो डॉक्टर की सलाह लेना जरूरी बन जाता है. इसके अलावा अकारण आवाज में बदलाव भी अच्छा संकेत नहीं देता. इसलिए इन लक्षणों को कतई नजरअंदाज ना करें और तुरंत डॉक्टर से परामर्श करें.

इसके अलावा खाने-पीने की चीजें निगलने में परेशानी होना लंबे समय से कफ की समस्या या बेवजह सांस फूलना भी सामान्य लक्षण नहीं है. ऐसे होने पर भी आपको डॉक्टरी सलाह की जरूर है. अगर आपको भूख नहीं लगती, बेवजह वजन कम हो रहा है, थकान या लंबे समय से बुखार हो रहा है तब भी डॉक्टर को दिखाना चाहिए.

ये भी पढ़ें- स्किन का रामबाण इलाज है मलाई, फायदे जानकर रह जाएंगे दंग

First published: 4 February 2019, 15:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी