Home » हॉलीवुड » miss englan 2019 bhasha 2019 mukerjee worked at hospital
 

कोरोना से जंग में मिस इंग्लैंड ने उतारा अपने सर से ताज, अस्पताल में कर रहीं मरीजों का इलाज

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 April 2020, 13:12 IST

कोरोना वायरस corona virus  से पूरी दुनिया जंग लड़ रही है. हर कोई ऐसे वक्त में अपने देश की मदद करने में जुटा हुआ है. उद्योगपतियों से लेकर सेलिब्रिटी तक हर इस जंग में अपना योगदान देने में पीछे नहीं हट रहे हैं. ऐसे में एक खबर ये आई है जिसे सुनकर आप कहें वाह!

जी हां, एक भारतीय मूल की डॉक्टर भाषा मुखर्जी Bhasha Mukerjee जिन्होंने वर्ष 2019 में मिस इंग्लैड का खिताब अपने नाम किया था. इस महामारी के चलते वो अपना ताज उतारकर अपने डॉक्टर के पेशे में वापस आ गई हैं. वो लोगों का इस वायरस से इलाज करने में जुट गईं हैं.


भाषा ने हालही में दिए गए एक इंटरव्यू में बाताया कि उन्हें समाजसेवा करना बहुत अच्छा लगता है. कुछ समय पहले वो भारत में ही थी. लेकिन इस महामारी के कारण उन्होंने महसूस किया कि अब अन्हें वापस जाकर अपनी ड्यूटी करनी चाहिए और लोगों की मदद करनी चाहिए.

उन्होंने आगे बताया कि वो घर वापस आना चाहती थी और फिर अपने काम पर. लेकिन उन्हें उनके एक पुराने दोस्त का मैसेज मिला जो कि खुद एक डॉक्टर हैं. उन्होंने अस्पताल में बिगड़ते अस्पताल में बिगड़ते हालातों के बारे में बताया. इसके बाद उन्होंने अस्पताल में फोन कर फिर से काम पर लौटने की परमिशन मांगी.

लॉकडाउन में एक दूसरे के साथ ये बॉलीवुड कपल्स बिता रहे हैं क्वालिटी टाइम

इंटरव्यू में भाषा ने ये भी कहा था कि जब उन्होंने डॉक्टर की डिग्री ली है तो शायद इस वक्त इसे इस्तेमाल करने का कोई और अच्छा समय नहीं हो सकता है. उन्हें खुद पर विश्वास हैं कि वो लोगों की मदद कर सकती हैं और मिस इंग्लैंज के ताज को सही साबित करने का और इस वक्त उनके देश को उनकी जरूरत हैं.गौरतलब है कि भाषा बॉस्टन के पिलग्रिम हॉस्पिटल में जूनियर डॉक्टर थीं. वो एक श्वसन रोगों की विशेषज्ञ हैं.

क्या अब भी सिद्धार्थ शुक्ला और रश्मि देसाई के बीच है अनबन? एक्ट्रेस ने दिया ये जवाब

First published: 9 April 2020, 13:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी