Home » इंडिया » 10 students arrested in gujarat for playing pubg in public
 

PUBG मोबाइल गेम बैन! सार्वजनिक स्थान पर पबजी खेलने के आरोप में 10 छात्र गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 March 2019, 14:11 IST

सार्वजनिक स्थल पर PUBG खेलने के आरोप में पुलिस ने 10 छात्रों को गिरफ्तार किया. ये मामला गुजरात के राजकोट कॉलेज का है. हालांकि पुलिस ने छात्रों को बाद में बेल पर छोड़ दिया. गुजरात पुलिस ने पांच दिन पहले PUBG ऑनलाइन गेम को बैन करने का नोटिस जारी किया था.

राजकोट पुलिस ने 9 मार्च को PUBG पर बैन लगा दिया था, जो 30 मार्च तक के लिए है. जिसके बाद इस मामले में पांच दिन बाद यानि 14 मार्च को पहली गिरफ्तारी की. मालूम हो कि गुजरात सरकार ने जनवरी में इस गेम को बैन करने का निर्देश जारी किया था.

गुजरात के राजकोट में पुलिस ने कॉलेज से 10 छात्रों को गिरफ्तार किया, इन 10 छात्रों में छह छात्र अंडर ग्रेजुएशन के छात्र हैं. इस मामले में एक पुलिस अधिकारी का कहना था, "हम यह कड़ा संदेश देना चाहते हैं कि पबजी को बैन करने वाला नोटिस महज कागज का टुकड़ा नहीं है."

 

क्या है पबजी गेम
PUBG गेम एक शूटर बैटल रॉयल गेम है, जिसमें 100 खिलाड़ी एक बैटलग्राउंड में छोड़े जाते हैं और वे मरने तक लड़ते हैं. 100 लोगों में आखिर तक जिंदा रहने वाला खिलाड़ी गेम का विजेता होता है.

इस कक्षा के बच्चे हैं ज्यादा?
इस सर्वें में खुलासा हुआ है कि इस गेम की लत सबसे ज्यादा आठवीं से बारहवीं के बच्चों को ज्यादा लगती है. ये बच्चे इस गेम की लत की वजह से पढ़ाई में मन नहीं लगा पाते. गेम में आगे का टारगेट उन्हें खेलने के लिए मजबूर करता है.

कब हुआ था लॉन्च
PUBG 2017 में लॉन्च हुआ था. इसके कुछ दिन बाद ही ये गेम एंड्रॉयड मोबाइल पर आ गया. ये गेम सट्टे की तरह होता है, इसमें सट्टे के लिए सबसे पहले रूम आईडी होती है.

PUBG के चक्कर में बेटे ने अपने पिता के अकाउंट से उड़ाए 50 हजार रुपए

First published: 14 March 2019, 14:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी