Home » इंडिया » 110 people killed, 32 injured in 48 hours due to lightning in UP-Bihar as soon as monsoon begins
 

मानसून शुरू होते ही यूपी-बिहार में बिजली गिरने से 48 घंटों में 110 लोगों की मौत, 32 घायल

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 June 2020, 9:13 IST

बिहार और उत्तर प्रदेश में मानसून के शुरू होते ही पिछले दो दिनों में बिजली गिरने से कम से कम 110 लोगों की मौत हो गई. अधिकारियों का कहना है कि बिजली गिरने से 32 लोगों के घायल होने और संपत्ति को भारी नुकसान पहुंचने की भी खबर है. पटना में आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा गुरुवार को जारी आंकड़ों के अनुसार बुधवार से बिजली की चपेट में आने से राज्य में 83 लोग मारे गए. कहा गया है कि इन घटनाओं में 20 से अधिक लोग घायल हुए हैं और अस्पताल में भर्ती हैं. इस बीच पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश में गुरुवार को बिजली गिरने से कम से कम 24 लोगों की मौत हो गई, जबकि 12 घायल हो गए. राज्य में बुधवार को तीन बार बिजली गिरने की घटनाएं हुई.

बिहार के आपदा प्रबंधन विभाग ने कहा कि गोपालगंज जिले में सबसे ज्यादा 13 लोग मारे गए है. अन्य मौतें नवादा और मधुबनी सीवान, भागलपुर पूर्वी चंपारण, दरभंगा, बांका, खगड़िया, औरंगाबाद, पश्चिम चंपारण, किशनगंज, जहानाबाद, जमुई, पूर्णिया, सुपौल, बक्सर, कैमूर, समस्तीपुर, शेहर, सारण, सीतामढ़ी, मधेपुरा में हुई हैं. बिजली गिरने से लोगों के घरों और संपत्ति को भारी नुकसान पहुंचा है. 


उत्तर प्रदेश में आकाशीय बिजली गिरने से कुल 24 लोगों की मौत हुई है. जिसमें से देवरिया में 9, कुशीनगर, फतेहपुर, बलरामपुर व उन्नाव में 1-1, बाराबंकी में 2, अंबेडकनगर में 3, प्रयागराज में 6 लोगों की मौत हुई है.  लोगों की मौत पर पीएम मोदी ने शोक व्यक्त करते हुए कहा ''बिहार और उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में भारी बारिश और आकाशीय बिजली गिरने से कई लोगों के निधन का दुखद समाचार मिला. राज्य सरकारें तत्परता के साथ राहत कार्यों में जुटी हैं. इस आपदा में जिन लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है, उनके परिजनों के प्रति मैं अपनी संवेदना प्रकट करता हूं''.

दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने अपने-अपने राज्यों में प्रत्येक मृतक के परिजनों को 4 लाख की राशि देने का ऐलान किया है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के लोगों से अपील की कि वे खराब मौसम की स्थिति में सतर्क रहें और जहां तक संभव हो घर के अंदर रहें. उन्होंने आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा इस संबंध में जारी की गई सलाह का पालन करने के लिए भी कहा है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को भी निर्देश दिया कि वे घायलों को सर्वोत्तम स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करें. इस बीच पटना में मौसम विभाग ने अनुमान लगाया है कि खराब मौसम कुछ और दिनों तक बना रह सकता है. मौसम विभाग की एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि राज्य के सभी 38 जिलों में भारी वर्षा की संभावना है. लखनऊ में मौसम विभाग ने 26 जून को पूर्वी यूपी में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की संभावना जताई है.

बिहार में आकाशीय बिजली का तांडव, वज्रपात से 83 लोगों की दर्दनाक मौत, मचा हड़कंप

First published: 26 June 2020, 9:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी