Home » इंडिया » 168 crore rupee and liqueur recover during assembly elections, demonetisation failed
 

मोदी राज में हुए 5 विधानसभा चुनावों के दौरान मिले 168 करोड़ रुपये और 5 लाख लीटर शराब

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 December 2018, 9:41 IST

देश में पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के लिए मतदान प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. इस दौरान मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में चुनाव के समय में ही भारी मात्रा में कालाधन बरामद किया गया. चुनावों के दौरान 168 करोड़ रुपये की धरपकड़ से ये साफ़ हो जाता है कि प्रधानमंत्री मोदी की नोटबंदी के बावजूद भी चुनावों में पैसे का इस्तेमाल कम होने की जगह बढ़ गया है. चुनाव आयोग के आकंड़ों के अनुसार उपरोक्त आंकड़ें बताते हैं कि इस बार चुनाव के दौरान जो अवैध नकदी बरामद हुई है वो पिछले चुनावों की तुलना में अधिक है.

इतनी भारी मात्रा में मिली रकम से पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त की आशंका पर मुहर लगी है, जब उन्होंने सरकार के दावे पर आशंका जताई थी कि नोटबंदी से चुनावों में कालेधन के इस्तेमाल से नकेल कसी जा सकेगी. गौरतलब है कि मुख्य चुनाव आयुक्त के पद से बीते हफ्ते ही सेवामुक्त हुए रावत ने कहा था कि इस बार चुनावों में कालेधन की बरामदगी पिछले चुनावों से अधिक है.


चुनाव आयोग के आंकड़ें बताते हैं कि इस बार राज्यों में आचार संहिता के लागू होने बाद लगभग 168 करोड़ रुपये की नकदी बरामद की गई है. इसके साथ ही शराब, अन्य नशीले और मादक पदार्थों के साथ कीमती जेवरों की भी बरामदगी हुई. शुक्रवार को ही पांचों राज्यों में मतदान की प्रकतिया पूरी होने के बाद चुनाव आयोग ने जो आंकड़ें जारी किये उसके अनुसार, बरामद हुए 168 करोड़ रुपयों में से केवल तेलंगाना से ही 115.19 करोड़ की नकदी बरामद हुई है.

ये भी पढ़ें- Rajasthan Election 2018: वोटिंग के बाद बड़ी लापरवाही, NH -27 पर गिरी मिली सील बंद EVM

वहीं मध्य प्रदेश में 30.93 करोड़ रुपये बरामद किये गए. इसके बाद तीसरे स्थान पर रहा राजस्थान, जहां पर 12.85 करोड़ रुपये की बरामदगी हुई. गौरतलब है कि पिछले चुनाव में मध्य प्रदेश में कुल 27 करोड़ रुपये का सामना बरामद हुआ था जिसमे नकदी, शराब और अन्य मादक पदार्थ भी शामिल थे. वहीं राजस्थान में इस बार के चुनावों में पिछले चुनावों के दौरान जब्त की गयी राशि से 1 करोड़ ज्यादा इस बार जब्त हुई है.

वहीं सभी राज्यों को पीछे छोड़ते हुए तेलंगाना में 115.19 करोड़ रुपये के कालेधन को जब्त किया गया. चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार इसमें से 12.26 करोड़ रुपये की 5.45 लाख लीटर शराब भी बरामद हुई. 17 किलोग्राम से अधिक का सोना भी जब्त किया है.

ये भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ में EVM से छेड़खानी! पुलिस ने 3 लोगों हिरासत में लिया, 2 सुरक्षाकर्मी निलंबित

इसके अलावा अगर आकंडोमन को देखें तो शराब और नशीले पदार्थों का सबसे ज्यादा इस्तेमाल राजस्थान में देखा गया. सात दिसंबर तक राजस्थान में चुनाव आयोग द्वारा 6.04 लाख लीटर शराब जब्त की गई जिसकी कीमत 39.49 करोड़ रुपये की है. इतना ही नहीं, राजस्थान में 14.58 करोड़ रुपये कीमत के चरस, गांजा, अफीम भी बरामद हुए हैं.

First published: 10 December 2018, 8:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी