Home » इंडिया » 19 years old girl died during safety drill in Coimbatore college
 

डिजास्टर मैनेजमेंट की ट्रेनिंग के दौरान डरी छात्रा तो ट्रेनर ने दिया धक्का और फिर...

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 July 2018, 13:57 IST

कॉलेज में आपदा प्रबंधन की ट्रेनिंग ने ही एक छात्रा की जान ले ली. तमिलनाडु के कोयंबटूर में एक स्कूल में डिजास्टर ड्रिल के दौरान 19 साल की एक छात्रा की जान चली गयी. मृतक छात्रा लोकेश्वरी कलाई मगल आर्ट्स एंड साइंस कॉलेज में बीबीए में दूसरे साल की छात्रा थी.

कॉलेज में एक ट्रेनिंग का आयोजन किया गया था. जिसमे आपदा प्रबंधन के गुर सिखाये जा रहे थे. कॉलेज में बच्चों को ये सिखाया जा रहा था कि किसी अप्रिय स्तिथि में कैसे खुद को बचाएं. इसी दौरान ये हादसा हुआ. वहां मौजूद लोगों ने बताया कि लोकेश्वरी दूसरी मंजिल वाली बालकनी के किनारे पर थी, जहां उसका ट्रेनर अरुमुगन उसे नीचे कूदने के लिए कह रहा था.

 

चश्मदीदों की माने तो लोकेश्वरी की जरा भी इच्छा नहीं थी और वह कूदना नहीं चाहता थी. मगर ट्रेनर ने नीचे उसे कूदाने के लिए धक्का दिया और ये हादसा हो गया. निचले फ्लोर पर सर के बल गिरने से उसकी मौत हो गयी.
नीचे मौजूद लोग उसे कैच करने की जुगत में थे. लेकिन वो पहले फ्लोर के स्लैब से टकरा गयी और उसे कैच नहीं किया जा सका. हादसे के तुरंत बाद उसे हॉस्पिटल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया.
इस तरह से एक छोटी सी लापरवाही के कारण जान बचाने के लिए दी जाएं वाली ट्रेनिंग ने ही जान ले ली.

ट्रेनर गिरफ्तार

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.धक्का देने वाले ट्रेनर अरुमुगन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. और उसके खिलाफ पुलिस ने लापरवाही से हुई मौत का मामला दर्ज किया है.

ये भी पढ़ें- चंडीगढ़: पगड़ी पहनने वाली सिख महिलाओं को अनिवार्य हेलमेट नियम से मिली छूट

First published: 13 July 2018, 13:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी