Home » इंडिया » 1993 Mumbai blasts: TADA court sentences convict don abu salem to life imprisonment, know about all convicted in this case.
 

1993 मुंबई धमाके: जानिए किस गुनहगार पर क्या थे आरोप और उनका रोल

हेमराज सिंह चौहान | Updated on: 7 September 2017, 14:40 IST
(file photo)

साल 1993 के मुंबई धमाकों के मामले में टाडा कोर्ट ने दोषियों को सज़ा सुना दी है. कोर्ट ने मुख्य आरोपी डॉन अबू सलेम और इस ब्लास्ट में उसका साथ देने वाले करीमुल्लाह खान को उम्रकैद की सजा सुनाई है. दोनों पर कोर्ट ने 2-2 लाख रुपये जुर्माना भी लगाया गया है.

गौरतलब है इस साल 16 जूनकि मुंबई विस्फोट के 24 साल बाद अदालत ने अबू सलेम सहित छह लोगों को दोषी करार दिया था. जबकि एक आरोपी को दोषमुक्त कर दिया था.कोर्ट ने गुरुवार को मोहम्मद ताहिर मर्चेट और फिरोज अब्दुल राशिद खान को फांसी की सज़ा सुनाई है, जबकि रियाज़ सिद्दीक़ी को दस साल की सजा सुनाई गयी है  इस मामले में एक अन्य दोषी मुस्तफा दोसा का दिल का दौरा पड़ने से पहले ही मौत हो चुकी है.

जस्टिस जी.एस. सानप की बेंच ने अबू सलेम को इस ब्लास्ट का मुख्य साजिशकर्ता माना है जबकि अन्य लोगों को भी अलग- अलग मामलों में दोषी करार दिया है.

एक नज़र सभी दोषियों पर लगे आरोपों पर- 

 

1- अबू सलेम: डॉन अबू सलेम को 1993 के मुंबई धमाकों का मुख्य साजिशकर्ता है. इसे इन धमाकों में हुई हत्या का भी दोषी पाया गया है. इसके अलावा अबू सलेम पर धमाकों की साजिश, हथियार और विस्फोटक गुजरात से मुंबई लाने का आरोप था.

2-मुस्तफ़ा दोसा- इस केस में मुस्तफ़ा दोसा पर सबसे गंभीर आरोप लगाए गए थे. उन पर बम धमाकों में लगने वाले विस्फोटक और गोला बारूद मुंबई में समुद्र के किनारे उतारने का आरोप था. दोसा को 2003 में दुबई से प्रत्यर्पित करके भारत लाया गया था.

3-मोहम्मद ताहिर- ताहिर पर आरोप था उसने धमाकों के लिए रुपयों का इंतज़ाम किया. उसने इन धमाकों के कई आरोपियों को ट्रेनिंग के लिए पाकिस्तान भेजा था.

4-फ़िरोज़ खान- फिरोज खान पर आरोप था कि वो दुबई में मुंबई साजिश के लिए मीटिंग में शामिल हुआ. उसने गुजरात के रास्ते हथियार और विस्फोटक मुंबई लाने में मदद की थी. उसे मुस्तफ़ा दोसा का करीबी बताया गया था.

5-करीमुल्लाह खान- करीमुल्लाह खान पर आरोप था कि उसने हथियारों और धमाके का सामान एक जगह से दूसरी जगह ले गया. उसने अपने दोस्त को पाकिस्तान में आतंकी ट्रेनिंग दिलवाई. हथियार और विस्फोटक लाने में मदद की थी.

6-रियाज़ सिद्दीकी- रियाज पर पर आरोप था कि वो आरडीएक्स से भरी मारुति वैन चला कर गुजरात के भरुच इलाके में ले गए और उन्होंने गाड़ी अबू सलेम के हवाले कर दी. अबू सलेम भरुच से हथियार और विस्फोटक मुंबई लाया.

1993 धमाकों में हुई थी 257 की मौत

 

12 मार्च 1993 को देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में सीरियल बम ब्लास्ट हुए थे जिसमें 257 लोग मारे गए थे और सैंकड़ों लोग घायल हुए थे. . इस मामले में याकूब मेमन को 2015 में फांसी दी जा चुकी है. अभिनेता संजय दत्त भी मुंबई ब्लास्ट कांड में जेल की सजा काट चुके हैं. पूरे मामले का मास्टर माइंड दाऊद इब्राहिम देश से बाहर है. पुलिस के मुताबिक ये विस्फोट 6 दिसंबर, 1992 के बाबरी मस्जिद विध्वंस के बदले के तौर पर किए गये थे. विध्वंस के बाद मुंबई में दिसंबर 1992 और जनवरी 1993 में दो चरणों में खूनी सांप्रदायिक दंगे हुए थे. 

First published: 7 September 2017, 14:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी