Home » इंडिया » 1993 Mumbai Serial bomb blast convict Tahir merchant passes away in Pune
 

1993 बम धमाकों के दोषी ताहिर मर्चेंट की मौत, कोर्ट ने सुनाई थी फांसी की सजा

न्यूज एजेंसी | Updated on: 18 April 2018, 15:59 IST

मुंबई में साल 1993 में हुए सिलेवार बम धमाकों के एक दोषी एम. ताहिर मर्चेट ऊर्फ ताहिर टकला की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई. मर्चेट को इस मामले में मौत की सजा सुनाई गई थी. एक पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी. अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (जेल) बी. के. उपाध्याय ने कहा, "यहां की यरवदा सेंट्रल जेल में बंद मर्चेट को करीब तीन बजे दिल का दौरा पड़ा और उसे सासून अस्पताल ले जाया गया."

उन्होंने कहा, "उस पर इलाज का कुछ असर नहीं हुआ और करीब 3.45 बजे उसकी मौत हो गई." मर्चेट को 7 सितंबर 2017 को मुंबई में मार्च 1993 में हुए सिलसिलेवार बम धमाके की साजिश रचने, इसमें मदद करने और जानबूझकर आतंकवादी गतिविधियां शुरू करने के मामले में मौत की सजा सुनाई गई थी.

ये भी पढ़ें-म्यांमार में 51 विदेशी कैदियों को मिला क्षमादान, वहीं, इराक ने 13 कैदियों के साथ किया ये सलूक

First published: 18 April 2018, 15:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी