Home » इंडिया » 2 year celebration by govt of india at India gate
 

मेरा देश बदल रहा है: भाजपा ने कहा सुर में, कांग्रेस ने कहा बेसुरा

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 May 2016, 9:12 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर काम बड़े पैमाने पर करने के लिए जाने जाते हैं. सरकार में उनके दो साल पूरे होने का आयोजन भी इससे अछूता नहीं रहा. छह घंटे लंबा लाइव शो, फिल्मी सितारों की हिस्सेदारी, मंत्रियों का रेला. मानो सरकार दो नहीं बल्कि पांचवे साल का रिपोर्ट कार्ड पेश कर रही हो.

सरकार की दूसरी सालगिरह पर दिल्ली में इंडिया गेट पर आयोजित मेगा शो का समापन प्रधानमंत्री के भाषण से हुआ. उन्होंने कहा कि मोदी ने भ्रष्टाचार बंद किया तो गाली नहीं खाएगा तो क्या खाएगा. लोकतंत्र में चुनी गई सरकार का समय-समय पर लेखा-जोखा होना चाहिए. दो साल पहले हमें एक जिम्मेदारी मिली थी, हमें देखना होगा कि हम कहां तक पहुंचे हैं.

मोदी ने कहा कि सपनों को चूर-चूर करने की ताकत भ्रष्टाचार में है. हमारी सरकार ने अब तक 1.62 करोड़ फर्जी राशन कार्ड का पता लगाया. 37 हजार करोड़ रुपए का भ्रष्टाचार रुका है. रसोई गैस पर सब्सिडी देने से भ्रष्टाचार पर लगाम लगाई. आज एक तरफ विकासवाद व एक तरफ विरोधवाद चल रहा है. मोदी ने कहा कि 1.13 करोड़ लोगों ने गैस सब्सिडी छोड़ी. हमने एक साल में 3 करोड़ लोगों को गैस कनेक्शन दिए.

जनता करेगी दूध का दूध पानी का पानी

उन्होंने जनता से दूध का दूध और पानी का पानी करने की अपील की. उन्होंने इशारों-इशारों में अपना दर्द भी बयान किया कि उनके कामकाज की बारीकी से पड़ताल होती है. विरोधवाद लगातार चलता रहता है.

साथ ही प्रधानमंत्री राहुल गांधी पर भी निशाना साधा. उन्होंने राहुल गांधी का नाम लिए बिना कहा कि दो साल पहले तक नौ गैस सिलेंडर और 12 गैस सिलेंडर के नाम पर वोट मांगे जाते थे. हमने लाखों गरीब घरों को सिलेंडर पहुंचाया है.

सरकार के कार्यक्रम पर अपनी प्रतिक्रिया में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, 'देश में सूखा पड़ रहा है और दिल्ली मेें जश्न मनाया जा रहा है.' इससे पहले शनिवार को दिन में कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने भी एक बुकलेट जारी कर सरकार की असफलताएं गिनाईं.

कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार की उपब्लधियों को गिनाया और विरोधियों पर निशाना भी साधा. उनके भाषण की कुछ खास बातें:

  • इस बात से कोई इनकार नहीं करेगा कि पिछली सरकार भ्रष्टाचार में डूबी थी, हमारा ज़ोर भ्रष्टाचार को ख़त्म करने पर है. जो पहले देश को लूट रहे थे, वहीं लोग इस सरकार से ख़ुश नहीं हैं.
  • अगले तीन साल में हम पांच करोड़ लोगों तक एलपीजी कनेक्शन पहुंचा देंगे.
  • अगर मैं सरकार की सारी उपलब्धियों को बताने की कोशिश करूं तो इन दूरदर्शन वालों को यहां एक हफ्ता तक रुकना पड़ेगा.
  • हमें इसलिएए गाली मिलती है क्योंकि जो लोग लंबे समय से देश को लूट रहे थे उनका दरवाजा हमने बंद कर दिया है.
  • एलईडी बल्ब के लिए अपने अभियान के कारण हमने 20 हजार मेगावाट बिजली बचाई है लेकिन ये बात ख़बर नहीं बनती है.
  • लोकतंत्र में सबके काम का विश्लेषण होना चाहिए, लेकिन हम निराशा का माहौल तैयार करने की ग़लती नहीं कर सकते हैं.
  • सुशासन के लिए ज़रूरी है कि सरकार अपने नागरिकों पर भरोसा करे.
  • भ्रष्टाचार ने भारत और इसके नागरिकों के सपनों को बर्बाद किया है.
  • दो सालों के कार्यकाल में हमने देखा है कि एक तरफ़ विकासवाद है और दूसरी तरफ विरोधवाद है
First published: 29 May 2016, 9:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी