Home » इंडिया » 2007 Hyderabad Twin Blasts case: NIA special court convicted Aneeq Shafeeq Sayeed and Ismail Chaudhary convicted,Two accused acquitted
 

हैदराबाद ब्लास्ट 2007: NIA कोर्ट ने 5 में से 2 आरोपियों को दोषी ठहराया, सोमवार को होगा सज़ा का ऐलान

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 September 2018, 12:42 IST

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की स्पेशल कोर्ट ने साल 2007 के सीरियल धमाको में मंगलवार को अपना फैसला सुना दिया.एनआई कोर्ट ने इन धमाकों में दो आरोपियों को दोषी घोषित किया जबकि दो आरोपियों को बरी कर दिया. इन आरोपियों को सजा सोमवार को सुनाई जाएगी.

एनआईए कोर्ट ने 5 आरोपियों में से अनीक शफीक सईद और इस्माइल चौधरी को इन धमाकों में दोषी पाया जबकि दो आरोपियों को बरी कर दिया. इसके अलावा एक आरोपी पर फैसला कोर्ट सोमवार को सुनाएगी. पहले इस केस में फैसला 27 अगस्त को आना था. लेकिन सेशन कोर्ट के जज श्रीनिवास राव ने ये फैसला 4 सितंबर तक टाल दिया था. 

ये भी पढ़ें- हैदराबाद ब्लास्ट: IM सहसंस्थापक यासीन भटकल समेत 5 आतंकियों को सज़ा-ए-मौत

इस मामले में मोहम्मद सादिक, अंसर अहमद बादशाह शेख, मोहम्मद अकबर इस्माइल चौधरी और अनीक शफीक सईद और तारिक अजुंम को 27 अगस्त को तेलंगाना की चेरलापल्ली सेंट्रल जेल से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए कोर्ट में प्रस्तुत किया गया था. इन सभी अभियुक्तों के संबंध इंडियन मुजाहिद्दीन से होने के आरोप हैं. 

महाराष्ट्र एटीएस ने इन लोगों को अक्टूबर 2008 में गिरफ्तार किया था. इसके बाद गुजरात पुलिस ने इन्हें अपनी कस्टडी में ले लिया था. इसके बाद तेलंगाना पुलिस की काउंटर इंटेलिजेंस ने मामले की जांच की थी. इन पर आईपीसी की धारा 302(हत्या), विस्फोट करने की साजिश और अन्य मामलों में केस दर्ज हैं.  

ये भी पढ़ें- हैदराबाद ब्लास्ट: इंडियन मुजाहिदीन सरगना यासीन भटकल समेत 5 दोषी करार

इस मामले में आरोपियों के खिलाफ तीन चार्जशीट दाखिल की गई थी. इनमें से कई फरार हैं. अगस्त 2013 को मेट्रोपोलियन जज ने मोहम्मद सादिक, अंसर अहमद बादशाह शेख, अकबर इस्माइल और अनीक शफीक सईद के खिलाफ आरोप तय किए थे.

11 साल पहले हुए धमाके 

25 अगस्त 2007 की शाम आंध्र प्रदेश की राजधानी हैदराबाद में दो भयानक सीरियल धमाके हुए थे. इन धमाकों में 42 लोगों की जान गई थी और 50 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे. हैदराबाद में पहला धमाका लुंबिनी अम्युजमेंट पार्क में 7 बजकर 45 मिनट पर हुआ था जबकि दूसरा धमाका इसके ठीक 5 मिनट के बाद 7 बजकर 50 मिनट पर गोकुल घाट भंडार पर हुआ था. इसके अलावा रात को दिलसुखनगर ने एक जिंदा बम बरामद किया था.

First published: 4 September 2018, 11:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी