Home » इंडिया » 2008 Malegaon blasts case: All seven accused with Col Purohit and Sadhvi pragya charged for terror conspiracy
 

मालेगांव ब्लास्ट: NIA कोर्ट ने पुरोहित-साध्वी प्रज्ञा सहित 7 के खिलाफ आतंकी साजिश के आरोप किए तय

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 October 2018, 17:03 IST
(file photo )

2008 मालेगांव ब्लास्ट मामले में कर्नल पुरोहित और साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर समेत 7 आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) कोर्ट ने आतंकवाद की साजिश रचने के आरोप तय किए हैं. एनआईए कोर्ट ने कर्नल पुरोहित समेत सभी आरोपियों पर आतंकी साजिश रचने, हत्या सहित अन्य मामलों में आरोप दर्ज किए हैं. मामले में अगली सुनवाई 2 नवंबर को होगी. बता दें कि इससे पहले सोमवार को बॉम्बे हाई कोर्ट ने मामले में निचली अदालत के फैसले पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था.

मीडिया खबरों के मुताबिक, एनआईए कोर्ट ने विस्फोट मामले में सभी 7 आरोपियों के खिलाफ यूएपीए की धारा 18 और 16, आईपीसी की धारा 120 बी, 302, 307, 324,326,427,153ए और विस्फोटक कानून की धारा 3,4,5 और 6 के तहत आरोप दर्ज किए हैं.

सुनवाई के दौरान सेशन जज वीएस पडलकर ने कहा, सभी आरोपियों पर अभिनव भारत संस्था बनाने और 2008 में मालेगांव धमाका करने के आरोप तय किए जाते हैं. जिन लोगों के खिलाफ आरोप तय किए गए हैं उनमें साध्वी प्रज्ञा, रमेश उपाध्याय, समीर कुलकर्णी, ले.क. पुरोहित, सुधाकर द्विवेदी, सुधाकर चतुर्वेदी और अजय राहिरकर नाम शामिल हैं.

एनआईए कोर्ट के फैसले को लेकर साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा है कि एनआईए ने पहले उनको क्लीन चिट दे दी थी. अब मेरे खिलाफ आरोप तय किए गए हैं. मुझे पूरा भरोसा है कि मैं इसमें निर्दोष साबित होऊंगी. सच्चाई की हमेशा जीत होती है'

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के मालेगांव में 29 सितंबर 2008 को एक मस्जिद के विस्फोट हुआ था. जिसमें 7 लोगों की मौत हो गई थी. वहीं 100 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे. एनआईए ने इस मामले में साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर, मेजर (सेवानिवृत्त) रमेश उपाध्याय, समीर कुलकर्णी, अजय राहिरकर, सुधाकर द्विवेदी और सुधाकर चतुर्वेदी को आरोपी बनाया है.

ये भी पढ़ें-  मालेगांव ब्लास्ट में कर्नल पुरोहित की जमानत अर्जी पर NIA को नोटिस

First published: 30 October 2018, 17:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी