Home » इंडिया » 22 Indian crew freed by pirates in Gulf of Guinea in africa Sushma Swaraj tweets and thanks Nigeria
 

सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर दी अफ्रीका में 22 भारतीयों को छुड़ाने की जानकारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 February 2018, 11:57 IST

केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मंगलवार को ट्वीट कर अफ्रीका में गायब 22 भारतीयों को छुड़ाने की जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट में लिखा, " मुझे ये जानकारी देते हुए खुशी हो रही है कि अफ्रीका में लापता टैंकर के 22 भारतीयों को छुड़ा लिया गया है." रविवार को 22 भारतीय नागरिकों के साथ एक तेल टैंकर वेस्ट एशिया में गिनी की खाड़ी में बेनिन के तट से गायब हो गया था. इसकी जानकारी विदेश मंत्रालय ने दी थी. 

इसकी जानकारी टैंकर का संचालन करने वाली हांगकांग बेस्ड एंग्लो ईस्टर्न कंपनी ने बयान जारी की. इस शिप में 22 भारतीय क्रू मैंंबर समेत 1300 टन गैसोलीन था. इस मरीन एक्सप्रेस को टैंकर को समुद्री डाकूओं ने अपने कब्जे में ले लिया था. पिछले चार दिनों से ये लापता था. सभी लोग अब सुरक्षित हैं. हालांकि ये अभी पता नहीं तल पाया कि है कि इन लोगों को छोड़ने के बदले कोई कीमत डाकूओं को दी गई या कि नहीं.

विदेंश मंत्री ने मंगलवार को ट्वीट कर नाइजारिया और बेनिन की सरकार को मदद और सहयोग देने के लिए धन्यवाद दे दिया. इन 22 लोगों को एंग्लों ईस्टर्न शिप मैंनेजमैंट और पनामानियन फ्लैग तले जहाज ने नियुक्ति दी थी. मरीन एक्सप्रेस को गुएना की खाड़ी में कॉन्टोनू बंदरगाह पर एक फरवरी को समुद्री डाकूओं ने अपने कब्जे में ले लिया था. इसके बाद समुद्री डाकूओं ने कम्यूनिकेशन सिस्टम को बंद कर दिया था.

लापता लोगों के बारे में जानकारी के लिए भारतीय दूतावास द्वारा 24 घंटे का  हेल्पलाइन नंबर + 234-9070343860 जारी किया गया था. नाइजीरिया के विदेश मंत्री जेफ्री ओनियेमा ने स्वराज को लापता टैंकर ढूंढने में हर संभव मदद करने का भरोसा दिलाया है था. इसके बाद इन लोगों को छुडा़ने के लिए प्रयास किए गए जो सफल हुए. 

First published: 6 February 2018, 11:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी