Home » इंडिया » 23 senior Congress leaders stand up, Sonia Gandhi Tells Aides Will Resign
 

अध्यक्ष को लेकर 'दो फाड़' हुई कांग्रेस, 23 नेताओं ने चिट्ठी लिख उठाई बदलाव की मांग, सोनिया बोलीं- छोड़ दूंगी पद

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 August 2020, 20:35 IST

कांग्रेस (Congress) के 23 सीनियर नेताओं ने एक चिट्ठी लिखकर पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से मांग की है कि पार्टी में नीचे से लेकर ऊपर तक परिवर्तन हो. बता दें, यह चिट्ठी सोमवार को पार्टी की कार्य समिति की बैठक (Congress Working Committee) से ठीक पहले सामने आई है. वहीं कुछ मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि सोनिया गांधी ने साफ तौर पर कहा है कि वो पार्टी के अध्यक्ष पद से हटेंगी. दावा है कि वो अब पार्टी की अध्यक्ष नहीं रहना चाहती हैं.

23 सीनियर नेताओं ने लिखी चिट्ठी


इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, कांग्रेस के 23 सीनियर नेताओं, जिनमें 5 पूर्व मुख्यमंत्री, कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्य, सांसद और कई पूर्व केंद्रीय मंत्री शामिल हैं, उन्होंने चिट्ठी लिखकर पार्टी में बड़े बदलाव की मांग की है. इन नेताओं ने अपनी चिट्ठी में लिखा है कि पार्टी को एक ऐसे अध्यक्ष की जरूरत है जो जमीन पर भी नजर आए.

कांग्रेस पार्टी के नेताओं की मांग है कि पार्टी का अध्यक्ष एक "पूर्णकालिक और प्रभावी नेतृत्व" हो जो क्षेत्र में "नजर आए" और "सक्रिय" हो, सीडब्ल्यूसी के चुनाव हो, इंस्टीट्यूशनल लीडरशिप मैकेनिज्म तुरंत बने, ताकि पार्टी में फिर से जोश भरने के लिए गाइडेंस मिल सके.

सोनिया गांधी को लिखे पत्र पर हस्ताक्षर करने वालों में राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आज़ाद, पार्टी के सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा, कपिल सिब्बल, मनीष तिवारी, शशि थरूर, सांसद विवेक तन्खा, एआईसीसी के पदाधिकारी और सीडब्ल्यूसी सदस्य जिनमें मुकुल वासनिक और जितिन प्रसाद और पूर्व मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री शामिल हैं, जिनमें भूपिंदर सिंह हुड्डा, राजेंदर कौर भट्टल, एम वीरप्पा मोइली, पृथ्वीराज भवन, पी जे कुरियन, अजय सिंह, रेणुका चौधरी, और मिलिंद देवड़ा शामिल हैं.

जिन नेताओं ने सोनिया गांधी को पत्र लिखा है उसमें उन्होंने तर्क देते हुए कहा कि कांग्रेस का पुनरुत्थान "एक राष्ट्रीय अनिवार्यता" है जो स्वास्थ्य लोकतंत्र के लिए मूलभूत है. रिपोर्ट के अनुसार, कांग्रेस सूत्रों ने अपने पत्र में बताया कि कैसे, जब देश "स्वतंत्रता के बाद सबसे गंभीर राजनीतिक, सामाजिक और आर्थिक चुनौतियों का सामना करता है तो पार्टी की निरंतर गिरावट आ रही है."

 

पद छोड़ने के लिए तैयार हैं सोनिय गांधी

वहीं पत्र के सामने आने के बाद यह भी सामने आया कि सोनिया गांधी अपना पद छोड़ने के लिए तैयार हैं. बता दें, साल 2019 लोकसभा चुनावों में पार्टी की हार के बाद तत्काली कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. राहुल के इस्तीफे के बाद कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक के बाद सोनिया गांधी को पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष चुना गया था. एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, सोनिया गांधी के करीबियों ने दावा किया है कि वो पार्टी के अध्यक्ष पद से हटने के लिए राजी हैं. सोनिया गांधी ने अपने स्वाथ्य का हवाला देते हुए पार्टी के अध्यक्ष पद से हटने का मन बनाया है और उन्होंने कहा है कि पार्टी के सीनियर नेता एक साथ बैठे और अध्यक्ष पद पर फैसला ले.

JEE और NEET की परीक्षा को लेकर राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला, कहा- सुने छात्रों के मन की बात

First published: 23 August 2020, 19:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी