Home » इंडिया » 30 million rural households in India still live without power
 

Fact Check: मोदी सरकार के दावे के बावजूद 3 करोड़ ग्रामीण आज भी अंधेरे में हैं

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 April 2018, 16:58 IST

भारत सरकार ने रविवार को एक घोषणा करते हुए कहा कि मणिपुर के एक गांव के विधुतीकरण के साथ उसने देश के सभी गांवों में विधुतीकरण का लक्ष्य पूरा कर दिया है. सरकार के ग्रामीण विद्युतीकरण आंकड़ों के इन आंकड़ों के बावजूद कि बिजली भारत के सभी गांवों तक पहुंच गई है, इसका मतलब यह नहीं है कि ये सभी गांव अंधेरे से बाहर आ गए हैं.

दरअसल सरकार के अपने आंकड़ों के अनुसार देश में 3 करोड़ से अधिक ग्रामीण परिवारों या 17% ग्रामीण परिवारों में अभी भी बिजली कनेक्शन नहीं है. तीन राज्यों उत्तर प्रदेश, झारखंड और असम में 40 प्रतिशत से अधिक ग्रामीण परिवारों का अभी तक विद्युतीकृत नहीं किया गया है. सबसे चौकाने वाली बात यह है कि वर्तमान में इन तीनों राज्यों में भारतीय जनता पार्टी की सरकारें हैं.

 

यहां समझने वाली बात यह है कि ग्रामीण विद्युतीकरण डेटा और घरेलू विद्युतीकरण के डेटा के बीच विरोधाभास है. सरकार के पास ग्रामीण विद्युतीकरण को परिभाषित करने का तरीका यह है कि एक गांव के 10% घरों में बिजली कनेक्शन होने पर उसे विद्युतीकृत घोषित किया जाता है.

इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि उन्हें वास्तव में नियमित रूप से बिजली की मिल रही है या नहीं. यहां तक कि अगर गांव में 100 घरों में से केवल 10 में बिजली कनेक्शन हैं और नियमित बिजली की आपूर्ति नहीं मिलती है तो इसे सरकारी रिकॉर्ड में विद्युतीकरण माना जाएगा.

सरकार के इसी दृष्टिकोण की खूब आलोचना भी हुई, जिसके बाद सरकार ने अक्टूबर 2015 में सौभाग्य योजना की घोषणा की. इस योजना के तहत घरों के विद्युतीकरण पर ध्यान केंद्रित किया गय. अब तक सरकार इस योजना के तहत करीब 60 लाख परिवारों का विद्युतीकरण करने में सक्षम रही है.

सरकारों के लिए ग्रामीण विद्युतीकरण एक चुनौती रही है. आजादी के वक़्क़त 1,500 गांवों का विद्युतीकरण किया गया था. 2005 से 2012 के बीच सात वर्षों में कांग्रेस की अगुवाई वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के कार्यकाल के दौरान, 104,496 गांव विद्युतीकृत थे और 21.5 मिलियन परिवारों को कनेक्शन प्रदान किए गए थे. इनमें से 19 मिलियन परिवारों को मुफ्त कनेक्शन मुहैया कराए गए थे. अप्रैल 2015 से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार ने 19,697 गांवों का विद्युतीकरण किया.

First published: 30 April 2018, 16:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी