Home » इंडिया » Catch Hindi News, AIDS, HIV, Short movies, Teen, India, WorldAidDay
 

5 शॉर्ट फिल्में जो आपका एड्स के प्रति नज़रिया बदल देंगी

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST

इस साल विश्व एड्स दिवस का 27 वां वर्ष था. पहले एचआईवी पॉजिटिव को "मौत की सजा" की तरह माना जाता था. अब इसे ऐसी क्रोनिक बीमारी माना जाता है जिसे एक हद तक मैनेज किया जा सकता है.

हालांकि, एड्स और उसके वायरस से जुड़ी सामाजिक धारणाओं में उम्मीद के मुताबिक बदलाव नहीं आए हैं.

चिंता का विषय सिर्फ इसका इलाज खोजना नहीं है बल्कि इसके प्रति लोगों का नजरिया बदलना भी है.

एचआईवी पीड़ित को बीमारी के साथ साथ मिथ्या सामाजिक धारणाओं का भी सामना करना पड़ता है. 

पेश है एचआईवी से जुड़ी कुछ ऐसी शॉर्ट फिल्में  हैं जिन्हें देखकर आपका इस बीमारी के बारे में नजरिया बदल सकता है.

1) आई हैव जज्ड. अदर्स विल नाउ जज मी

यह शॉर्ट फिल्म समाज में एचआईवी/एड्स के प्रति सामाजिक धारणाओं को उजागर करती है और समाज में इस रोग  से पीड़ितों के अनुभवों के बारे में करीब से बताती है. फिल्म देखकर आपको पता चलेगा कि क्या एचआईवी/एड्स के साथ रहने वाले लोग वास्तव में आपसे अलग हैं?

2) पॉजिटिव

इस शार्ट फिल्म में बोमन ईरानी और शबाना आजमी हैं. यह फिल्म फरहान अख्तर ने बनाई है. इसमें एक लड़के की कहानी है जो अपने पिता से निराश रहता है. लड़का अपने पिता से उनके विवाहेत्तर संबंध की वजह से गुस्से में है. उसे बाद में एहसास होता है कि उसके पिता को उसकी सबसे ज्यादा ज़रूरत है. इस शॉर्ट फिल्म में समझाया गया है कि एचआईवी/एड्स की गलत धारणाओं से हमारे संबंधो में कितनी परेशानियां पैदा होती हैं. 

3) एचआईवी/एड्स अमंग माइग्रैंट कंस्ट्रक्शन वर्कर्स इन इंडिया

भारत में क़़रीब 40 करोड़ प्रवासी और असंगठित मज़दूर हैं. बड़े शहरों में काम करने वाले ये मजदूर  मुख्यधारा से सांस्कृतिक और सामाजिक रूप से अलग रहते हैं. ये लोग एचआईवी संक्रमण के सबसे आसान शिकार बनते हैं. यह शॉर्ट फिल्म ऐसे ही श्रमिकों के ऊपर बनी है.

4) इनसाइड आउट

यह फिल्म एचआईवी की शिकार कुछ लड़कियों के जीवन के आसपास घूमती है. जिन्होंने  माता पिता को खोने के बाद इस रोग के कारण सामाजिक अस्वीकृति का सामना किया.

5 ) ओरेंज बेबीज 'बॉरोड टाइम '

यह एक छोटा सा विज्ञापन है जो आपका दिल छू लेगा और आपको सोचने पर मजबूर कर देगा. यह कहानी एक मां और उसके एचआईवी पॉजिटिव बच्चे के बारे में है.

First published: 3 December 2015, 6:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी