Home » इंडिया » 6 children from one family die in a fire, caused by a candle toppling over in Bareilly
 

यूपी: बरेली में मोमबत्ती की लौ ने बुझाए परिवार के 6 चिराग

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:50 IST

उत्तर प्रदेश के बरेली में एक दर्दनाक घटना में एक ही परिवार के छह बच्चे जिंदा जल गए. किला छावनी इलाके में रहने वाला रिक्शा चालक राजू अपनी पत्नी रजनी के साथ एक रिश्तेदार के यहां शादी में पीलीभीत गया था.

घर में उसका बेटा संगम, चार बेटियां सलोनी (16), संजना (12), सानिया (10) और दुर्गा (8) थे. राजू की बड़ी बेटी सोनी के दोनों बच्चे महिमा और देव भी वहीं थे. रात में खाना खाने के बाद सभी सो गए.

मोमबत्ती की लौ से लगी आग


तड़के जब संगम काम पर जाने के लिए निकला तो मोमबत्ती जला दी. वो घर से निकल गया और सलोनी ने दरवाजा अंदर से बंद कर लिया. आशंका है कि वो मोमबत्ती बुझाना भूल गई और उसी से आग लग गई.

आग ने बरामदे में पड़ी झोपड़ी को अपनी चपेट में ले लिया. सुबह जब मोहल्ले वालों की नजर घर से निकल रहे धुएं और आग की लपटों पर पड़ी. तो आसपास के लोग जुट गए लेकिन दरवाजा अंदर से बंद था.

मौके पर पुलिस और फायर ब्रिगेड टीम पहुंची और दरवाजा तोड़ा गया. अंदर पूरा घर आग की लपटों में घिर गया था. लोगों की मदद से किसी तरह आग पर काबू पाया गया.

लेकिन तब तक सलोनी, संजना, सानिया, दुर्गा समेत महिमा और देव की आग में जलकर मौत हो गई थी. पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

bareilly 2


घर में रखे थे तीन सिलेंडर


मौके पर एसएसपी आरके भारद्वाज, एसपी सिटी समीर सौरभ पहुंचे. एसएसपी ने बताया कि मोमबत्ती से आग लगने की बात सामने आई है.

बताया जा रहा है कि घर में 3 सिलेंडर भी रखे थे. मौके पर पहुंची पुलिस ने सिलेंडरों को बाहर निकाला और दूर मिट्टी पर फेंक दिया. अगर सिलेंडर ब्लास्ट होता, तो आसपास के घर भी उसकी चपेट में आ सकते थे. 

First published: 29 April 2016, 11:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी