Home » इंडिया » 70 year old tribal man from Odisha carves Canal to bring to Village
 

अब ओडिशा में मिला 'दशरथ मांझी', पहाड़ काटकर 3 साल में बनाई नहर

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 June 2018, 13:40 IST
(Film- Majhi: The MountainMan)

कहते हैं जब कुछ करने गुजरने का जज्बा हो तो उम्र कोई मायने नहीं रखती. ऐसा ही कुछ कर दिखाया ओडिशा के 70 साल के एक आदिवासी किसान ने. जिसने खेतों की सिंचाई के लिए पहा़ड़ को काटकर एक नहर बना दी. 70 साल के दैतारी नायक आदिवासी किसान हैं जो ओडिशा के केंजर जिले में बांसपाल ब्लॉक के बैतारानी गांव में रहते हैं.

उनके गांव में खेतों की सिंचाई के पानी के लिए कोई व्यवस्था नहीं है. इसी समस्या को सुलझाने के लिए दैतानी ने खुद बीणा उठाया और पहाड़ को काटकर एक किलोमीटर लंबी नहर बना दी. बांसपाल, तेलकोई और हरिचंदपुर इलाके में कई गांव पानी की गंभीर समस्या से जूझ रहे हैं. जहां पीने के लिए भी पानी नहीं है. पेयजल की कमी इन गांवों में सिंचाई के लिए पानी नहीं रहने देती. जिसके लिए किसानों को बारिश पर निर्भर रहना पड़ता है.

दैतारी नायक की कहानी बिल्कुल बिहार के दशरथ मांझी जैसी है. जिन्होंने पहाड़ काटकर सड़क बना दी और उन्होंने 'माउंटेनमैन' कहा जाने लगा. नायक ने भी कुछ ऐसा ही किया और अपने गांव तक पानी पहुंचाने के लिए पहाड़ काटकर नहर बना दी और गांव तक झरने का पानी पहुंचा दिया.

 

दैतारी नायक कहते हैं कि, “हमारे गांव में सिंचाई की सुविधा की कमी थी. हम अपने खेतों पर सफल नहीं उगा सकते थे, इसलिए मैंने अपने परिवार के सदस्यों के साथ तीन साल तक लगातार पहाड़ काटे, झाड़ियां साफ की. जिससे गांव तक पानी लाया जा सके. आखिरकार पिछले महीने हमें सफलता मिल ही गई.”

बता दें कि जब जिला प्रशासन ने गांव के लोगों की कोई मदद नहीं की तो दैरारी नायक ने इसे खुद करन का फैसला किया. सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियंता सुधाकर बेहरा ने कहा कि खबरों के मुताबिक नायक ने कराटाकाटा नल्लाह से पानी लाने के लिए एक नहर खोदी है. उन्होंने कहा कि हम गांव का दौरा करेंगे और सिंचाई के पानी की व्यवस्था के लिए आवश्यक कदम उठाएंगे.

ये भी पढ़ें- तलाक के बाद कुत्ते की कस्टडी के लिए कोर्ट पहुंचे पति-पत्नी, जज ने सुनाया ये फैसला

First published: 23 June 2018, 13:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी