Home » इंडिया » 73rd Army Day: President Kovind and PM Modi congratulated the army, read what they said
 

73rd Army Day: राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी सेना को बधाई, पढिये क्या कहा

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 January 2021, 9:41 IST

73rd Army Day: आज भारतीय सेना 73वां सेना दिवस (73rd Army Day) मना रही है. हमारे देश के सैनिकों को निस्वार्थ सेवा और भाईचारे की सबसे बड़ी मिसाल कायम करने के लिए हर साल सेना दिवस सभी सेना कमान मुख्यालय में मनाया जाता है. राष्ट्र भी इस दिन बहादुरों की वीरता को श्रद्धांजलि देता है और उनकी निस्वार्थ सेवा के लिए उन्हें धन्यवाद देता है.

सेना दिवस पर चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, आर्मी चीफ जनरल एम.एम.नरवणे, IAF चीफ एयर चीफ मार्शल आर.के.एस भदौरिया और नेवी चीफ एडमिरल करमबीर सिंह ने नेशनल वॉर मेमोरियल पर श्रद्धांजलि दी.


 

इस मौके पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा ''मां भारती की रक्षा में पल-पल मुस्तैद देश के पराक्रमी सैनिकों और उनके परिजनों को सेना दिवस की हार्दिक बधाई. हमारी सेना सशक्त, साहसी और संकल्पबद्ध है, जिसने हमेशा देश का सिर गर्व से ऊंचा किया है. समस्त देशवासियों की ओर से भारतीय सेना को मेरा नमन:''

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा ''सेना दिवस पर, भारतीय सेना के बहादुर पुरुषों और महिलाओं को शुभकामनाएं. हम उन बहादुरों को याद करते हैं जिन्होंने राष्ट्र की सेवा में सर्वोच्च बलिदान दिया. भारत साहसी और प्रतिबद्ध सैनिकों, पूर्व सैनिकों और उनके परिवारों के लिए हमेशा आभारी रहेगा''.

देश में हर साल 15 जनवरी को भारतीय थल सेना दिवस मनाता है. 15 जनवरी 1949 में फील्ड मार्शल केएम करियप्पा (Field Marshal KM Cariappa) ने जनरल फ्रांसिस बुचर (General Sir Francis Butcher) से भारतीय सेना की कमान हासिल की थी. फ्रांसिस बुचर भारत के अंतिम ब्रिटिश कमांडर इन चीफ थे. फील्ड मार्शल केएम करियप्पा भारतीय आर्मी के पहले कमांडर इन चीफ बने थे. करियप्पा के भारतीय थल सेना के शीर्ष कमांडर का पदभार ग्रहण करने के कारण हर साल सेना दिवस मनाया जाता है.

इस बार गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल नहीं होगा कोई विदेशी नेता, जानिए इससे पहले ऐसा कब हुआ ?

First published: 15 January 2021, 9:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी