Home » इंडिया » 9 officers suspended over the deaths of 250 cows in Chhatisgarh
 

छत्तीसगढ़: 250 गायों की मौत के मामले में 9 अफसर निलंबित

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 August 2017, 9:28 IST

छत्तीसगढ़ के दुर्ग और बेमेतरा जिले में 250 गायों की मौत के मामले में राज्य के कृषि एवं पशुपालन मंत्री ने विभाग के नौ अफसरों को निलंबित कर दिया है और 'कारण बताओ' नोटिस जारी कर उनसे जवाब तलब किया है. मंत्री बृजमोहन अग्रवाल हालांकि इन दिनों अध्ययन यात्रा के क्रम में इजराइल में हैं, वह वहीं से इस मामले पर नजर बनाए हुए हैं.

दुर्ग के धमधा विकासखंड के ग्राम राजपुर स्थित शगुन गोशाला, बेमेतरा जिले के साजा विकासखंड के ग्राम गोडमर्रा स्थित फूलचंद गोशाला और साजा क्षेत्र के ही ग्राम रानों स्थित मयूरी गोशाला में बड़ी संख्या में गायों की मौत हुई है. इस मामले में मंत्री अग्रवाल ने पशुपालन विभाग के निदेशक डॉ. एस.के. पांडे को 19 अगस्त की सुबह तक रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए थे.

शनिवार सुबह रिपोर्ट आने के बाद पाया गया कि गोशालाओं में गंभीर अनिमितताएं थीं, इसके बावजूद जिम्मेदार अधिकारी लापरवाह बने रहे. इसलिए भाजपा शासित राज्य की गोशालाओं में 250 गायों की मौत के रूप में बड़ी घटना सामने आई.

कृषिमंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने दूरभाष पर कृषि सचिव को दुर्ग जिले के उपनिदेशक (पशुपालन) डॉ. एम.के. चावला, बेमेतरा के उपनिदेशक (पशुपालन) डॉ. ए.के. सिंह, धमधा क्षेत्र के वीएएस डॉ. सत्यम मिश्रा व डॉ. भारतेश शर्मा, एवीएफओ एलएस सोरी, साजा क्षेत्र के वीएएस डॉ. एम.एन. झा, डॉ. पुष्पराज खटकर, एवीएफओ के.के. ध्रुव और एलडी चंद्राकार को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए हैं.

First published: 20 August 2017, 9:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी