Home » इंडिया » A Man held in UP for sending death threat messages for CM Yogi and Khattar
 

CM योगी और मनोहर लाल खट्टर की हत्या करना चाहता था ये युवक, पुलिस ने किया गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 December 2019, 11:27 IST

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ(Yogi Adityanath) और हरियाणा(Haryana) के सीएम मनोहर लाल खट्टर(Manohar Lal Khattar) की हत्या की धमकी(Death Threat) देने वाले एक व्यक्ति को यूपी पुलिस(UP Police) ने गिरफ्तार किया है. आरोप है कि युवक ने तीन दिसंबर को अपने दोस्तों के मोबाइल पर सीएम योगी और सीएम खट्टर की हत्या करने के धमकी भरे मैसेज भेजे थे. पुलिस ने बताया कि आरोपी की पहचान हिमांशु मौर्या के रूप में हुई है.

पुलिस के अनुसार, आरोपी कानपुर के कृष्णा नगर का निवासी है. तीन दिसंबर को SSP कार्यालय में दो लोगों ने शिकायत की कि उनके फोन पर एक मैसेज आया है. इस मैसेज में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और हरियाणा के सीएम मनोहल लाल खट्टर की हत्या की धमकी दी गई है. एसएसपी कार्यालय में जैसे ही ये मैसेज आया हड़कंप मच गया.

इसके बाद पुलिस ने शिकायत के आधार पर मामला दर्ज करते ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अनंत देव की अगुआई में जांच शुरू कर दी. एसएसपी ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए एटीएस, एसटीएफ और साइबर सेल का सहारा लिया गया. इसके बाद मैसेज भेजने वाले की लोकेशन कानपुर के चकेरी क्षेत्र में कृष्णा नगर में पाई गई.

पुलिस ने बताया कि इसके बाद स्पेशल टीम ने आरोपी को सर्च ऑपरेशन में पकड़ लिया. आरोपी के पास से धमकी भरे मैसेज भेजने में उपयोग किया गया मोबाइल भी बरामद कर लिया गया है. मोबाइल को साइबर फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया गया. पूछताछ के दौरान आरोपी ने दावा किया कि वह छत्रपति शाहूजी महाराज यूनिवर्सिटी से मास्टर इन कॉमर्स का छात्र रह चुका है.

पुलिस ने बताया कि आरोपी ने पकड़ में आने के बाद पहले खुद को मानसिक विक्षिप्त बताकर पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की. हालांकि पुलिस के लगातार पूछताछ करने पर उसने अपने दो पुराने दोस्तों अर्पित त्रिपाठी और पटेल नगर निवासी अम्बरीश शुक्ला के फोन पर हत्या की धमकी भेजने की बात कबूल कर ली.

 

लालू यादव की बहू ने सुनाई ससुराल में यातना की दास्तां, बताया- राबड़ी देवी ने बाल नोंचकर पीटा

हिंसा की आशंका के चलते 5 जनवरी तक AMU बंद, डर से जामिया छोड़कर जा रही छात्राएं

First published: 16 December 2019, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी