Home » इंडिया » Adi Godrej: Beef ban, liquor prohibition impacting development
 

आदि गोदरेज: बीफ बैन और शराबबंदी से अर्थव्यवस्था पर बुरा असर

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 May 2016, 15:34 IST

देश के जाने-माने उद्योगपति और गोदरेज ग्रुप के चेयरमैन आदि गोदरेज ने शराब और बीफ बैन मामले पर एक बयान दिया है. गोदरेज समूह के अध्यक्ष आदि गोदरेज ने कहा है कि देश में बीफ बैन और शराबबंदी के कारण अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ रहा है. 

हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि पिछले दो साल में केंद्र सरकार की नीतियां सभी के लिए सहायक रही हैं.

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस को दिए बयान में गोदरेज ने कहा कि कुछ राज्यों में बीफ बैन और शराबबंदी से विकास पर असर पड़ा है. इससे निश्चित रूप से खेती और ग्रामीण विकास पर भी असर पड़ेगा. क्योंकि आप जरुरत से ज्यादा गायों का क्या करेंगे?

गोदरेज ने साथ ही कहा कि इससे व्यापार भी प्रभावित होगा, क्योंकि यह अनेक किसानों के लिए अच्छी आय का साधन भी है. इसलिए ये नुकसानदायक है.

वैदिक युग में बीफ खाने का हवाला

गोदरेज ने आगे कहा ‘पिछले दो सालों में सरकार की नीतियां अच्छी रहीं है. व्यापार करने में मदद मिली है. मेरा विश्वास है कि भारत विश्व में तेज गति की अर्थव्यवस्था वाला देश बना रहेगा. भारत धीरे-धीरे मजबूत विकसित देश बन जाएगा.’ उन्होंने कहा कि कुछ कारणों से यह विकास प्रभावित हो रहा है.

बीफ खाने के मामले पर उन्होंने कहा कि वैदिक युग में भारतीय बीफ खाते थे. हमारे धर्म में बीफ खाने की कोई मनाही नहीं है. कई सालों तक पड़े अकाल के चलते यह प्रचलन में आया. बुजुर्ग कहते थे कि गायों को मत मारो, उन्हें बच्चों के दूध के लिए बचाओ. यह बातें धार्मिक विश्वास में बदल गईं. यह बकवास है. 

उन्होंने कहा कि बॉम्बे हाईकोर्ट का निर्णय अच्छा है. हाईकोर्ट ने कहा है कि गोवध को आप रोक तो सकते हैं, पर आप उसके उपभोग पर प्रतिबंध नहीं लगा सकते.

'बैन से खराब शराब बनेगी'


मोदी सरकार के दो साल के कामकाज पर गोदरेज कहा, ‘कारोबार करने में आसानी वास्तव में मदद करती है. हमें कमॉडिटी की कीमतों में कमी से फायदा हुआ है. भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था बना रहेगा.

शराबबंदी पर गोदरेज ने कहा कि, ‘चुनाव जीतने और महिलाओं का वोट हासिल करने के लिए कुछ राज्य ऐसा कर रहे हैं. किसी चीज को बैन करना अर्थव्यवस्था के लिए बुरा है. बैन से पीने वाले कम नहीं होंगे. बैन की वजह से खराब शराब बनेगी और शराब माफिया को बढ़ावा मिलेगा.

First published: 12 May 2016, 15:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी