Home » इंडिया » Aditya thakre: Modi govt just like a manmohan govt
 

उद्धव के बाद अब आदित्य ठाकरे के निशाने पर भाजपा, कहा कांग्रेस से ज्यादा बेहतर नहीं है

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 October 2016, 16:28 IST
(पीटीआई)

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के बेटे और युवा सेना के अध्यक्ष आदित्य ठाकरे ने महाराष्ट्र के देवेंद्र फणनवीस की कड़ी आलोचना की है.

उन्होंने राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सत्तारूढ़ सरकार पूर्ववर्ती ‘अयोग्य’ संप्रग सरकार से ‘अलग नहीं’ है क्योंकि जनता के कई मुद्दे अभी तक अनसुलझे हैं.

गौरतलब है कि शिवसेना केंद्र में सत्तारूढ़ राजग सरकार में गठबंधन सहयोगी है. आदित्य ठाकरे ने शिक्षा के क्षेत्र में नीतिगत मुद्दों पर महाराष्ट्र के फणनवीस सरकार की ‘निष्क्रियता’ दिखाने का आरोप लगाते हुए शनिवार को एक प्रदर्शन मार्च का आयोजन किया था.

अगले वर्ष होने वाले बृह्नमुंबई नगरपालिका परिषद (बीएमसी) चुनावों के मद्देनजर ठाकरे परिवार के उत्तराधिकारी के नेतृत्व में आयोजित यह पहला प्रदर्शन है. इस मार्च को ‘केजी से पीजी’ तक नाम दिया गया है.

मार्च गिरगाम चौपाटी के विल्सन कॉलेज से शुरू हुआ और इस्लाम जिमखाना में आदित्य के संबोधन के साथ समाप्त हुआ.

इस अवसर पर आदित्य ने कहा कि शिवसेना ने शुरू में सोचा था कि राजग सरकार ‘उनकी’ अपनी है जो पूर्ववर्ती कांग्रेस-राकांपा सरकार के 15 वर्षों के कुशासन से जनता को राहत दिलाएगी, लेकिन वर्तमान सरकार निरुत्साही साबित हुई है.

उन्होंने कहा, "पूर्ववर्ती सरकार अयोग्य और निष्प्रभावी थी और यह सरकार भी उससे अलग नहीं है. लोगों के मुद्दे अभी भी अनसुलझे हैं."

ठाकरे ने कहा कि युवा सेना मोर्चा निकालने को मजबूर है क्योंकि शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े के आश्वासन के बावजूद विद्यार्थियों से जुड़े मुद्दे अनसुलझे हैं. युवा सेना प्रमुख ने कहा, "पिछले डेढ़ वर्षों की यात्रा वादों की ज्यादा और सुशासन की कम रही है."

First published: 16 October 2016, 16:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी