Home » इंडिया » After Amritsar train accident Indian Railway will take these actions against railway track Encroachment
 

अमृतसर ट्रेन हादसे के बाद रेलवे ने उठाया ये बड़ा कदम, देश भर में चलेगा ये बड़ा अभियान

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 October 2018, 13:05 IST

अमृतसर में हुए दर्दनाक ट्रेन हादसे के बाद भारतीय रेलवे ट्रकों पर अतिक्रमण के खिलाफ सख्त कदम उठाने की तैयारी में है. अमृतसर में हुए रेल हादसे में 60 लोगों की दर्दनाक हालातों में मौत हो गई. वहीं घायलों में किसी ने अपने हाथ गंवा दिया तो किसी ने पैर. घायलों की हालत इतनी बुरी है कि उन्हें  इस एक्सीडेंट की चोटों के सदमें से उबरने में काफी समय लग जाएगा. 

इस हादसे के बाद से ही रेलवे विभाग से लेकर पुलिस प्रशासन और सरकार भी अपना पल्ला झाड़ते दिख रहे हैं. सब इस दुर्घटना के लिए एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं. इस बीच रेलवे ने इस दुर्घटना को रेलवे ट्रैक अतिक्रमण का मामला बता कर हादसे की जिम्मेदारी लेने से इंकार दिया. लेकिन इस मामले में अतिक्रमण के खिलाफ बड़े क़दाम उठाने को तैयार रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्विनी लोहानी ने कहा है कि रेलवे देशभर में अपने नेटवर्क में पटरियों पर अतिक्रमण के खिलाफ व्यापक अभियान शुरू करेगा.

लोहानी ने कहा, ''रेलवे ने पहले भी ऐसे अभियान चलाए हैं लेकिन रूक रूक कर. रेलवे ने देशभर में रेल की पटरियों पर सेल्फी को लेकर हो रही मौतों के मामले सामने आने के बाद पिछले साल भी अभियान शुरू किया था.''

इस हादसे को अतिक्रमण का मामला बताते हुए लोहानी ने कहा कि रेलवे इस तरह के अभियान चलाता रहता है. वहीं इस रेलवे ट्रैक के नजदीक रावण दहन आयोजन की जानकारी से इंकार करते हुए लोहानी ने कहा कि रेलवे को इस आयोजन के बारे में कोई जानकारी नहीं थी.

वहीं इस घटना के बाद रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने भी ट्रेन के चालक के खिलाफ कोई भी कारवाई से इनकार कर दिया। उन्होनें कहा कि इस हादसे में रेलवे की तरफ से कोई लापरवाही नहीं थी. वहीं इस मामले में राज्य के मुख्यमंत्री ने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं जिसकी रिपोर्ट 4 हफ़्तों में आएगी.

अमृतसर ट्रेन हादसे को लेकर विदेश में भी दुख, पाकिस्तान PM ने कहा ऐसा जिसकी भारत को नहीं थी उम्मीद

First published: 21 October 2018, 13:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी