Home » इंडिया » After army surgical operation administration vacated 1000 village
 

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद बॉर्डर पर बढ़ा तनाव, सीमा से सटे 1000 गांव खाली कराए गए

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 September 2016, 9:58 IST
(एजेंसी)

भारतीय सेना के द्वारा नियंत्रण रेखा पार करके पाकिस्तानी कब्जे वाले इलाके में किए गए सर्जिकल ऑपरेशन के बाद से सीमा के दोनों तरफ तनाव का माहौल बना हुआ है. इसी तनाव को देखते हुए भारत-पाक सीमा से सटे पंजाब के छह जिलों के 1000 गांवों को खाली करा लिया गया है. इन गांवों में करीब 2 लाख लोग रहते हैं.

बताया जा रहा है कि पंजाब सरकार ने इन जिलों में तैनात डाक्टरों, पुलिस कर्मियों, फायर ब्रिगेड कर्मचारियों तथा अन्य प्रशासनिक अधिकारियों की छुट्टियां भी रद्द कर दी हैं.

पंजाब-राजस्थान सीमा पर हाई अलर्ट

सीमा से सटे स्कूलों को बंद कर दिया गया है. भात-पाकिस्तान की पश्चिमी सीमा पर तनाव बढ़ गया है. पंजाब के साथ राजस्थान और जम्मू-कश्मीर को हाई अलर्ट पर रखा गया है. पठानकोट और गुरदासपुर जिलों के अस्पतालों को भी हाई अलर्ट रखा गया है.

इन अस्पतालों के इमरजेंसी वार्ड में पहले से दाखिल मरीजों को दूसरे अस्पतालों में शिफ्ट कर दिया गया है. इसके साथ ही सीमा से सटे अस्पतालों में विभिन्न ग्रुप के ब्लड स्टोर करने के निर्देश दिए गए हैं.

पंजाब के छह जिलों में खाली कराए गांव

इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने मंत्रिमंडल की आपात बैठक में ताजा हालात पर चर्चा की. आपात बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने कहा, "हमने खाली कराए गए सभी छह जिलों में पुलिस तथा सिविल प्रशासन से संबंधित एक-एक अतिरिक्त अधिकारी की तैनाती कर दी गई है, जो वहां के जिला उपायुक्त तथा एसएसपी की मदद करेंगे."

पंजाब के एडीजीपी लॉ एंड आर्डर तथा गृह सचिव कंट्रोल रूम पर तैनात रहेंगे. इसके अलावा पहले चरण में सभी छह जिलों के लिए हमने एक-एक करोड़ रुपये की धनराशि जारी कर दी है, जिससे गांव छोड़कर आए लोगों के रहने-खाने की व्यवस्था की जाएगी.

वहीं तनाव के मद्देनजर सीमा सुरक्षा बल ने वाघा बॉर्डर पर होने वाली अपनी बीटिंग रिट्रीट सेरेमनी को भी कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया है.

जम्मू-कश्मीर के आरएसपुरा सेक्टर में भी गांवों को खाली कराया गया है. लोगों को सुरक्षित स्थानों पर बने कैंप में भेजा गया है.

First published: 30 September 2016, 9:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी