Home » इंडिया » After branded a 'witch', Dalit woman forced to drink urine in Bihar
 

बिहार: दरभंगा में डायन बता कर दलित महिला की दबंगों ने की पिटाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 July 2016, 17:20 IST
(कैच न्यूज)

बिहार के दरभंगा में दलित महिला से दरिंदगी का मामला सामने आया है. जानकारी के मुताबिक, दरभंगा जिले के पिपरा गांव में 4 दबंगों ने बृहस्पतिवार 28 जुलाई को टोना टोटका करने के शक में एक दलित महिला की बेरहमी से पिटाई की. इसके अलावा पीड़ित महिला को मूत्र पिलाने की भी कोशिश की गई. घटना के बाद से चारों आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं. 

पीड़ित महिला ने बताया कि मुझे घर से घसीटकर बाहर निकाला और बहुत पिटाई की. मुझे मू्त्र पिलाने की भी कोशिश का गई.

सब डिवीजनल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) अंजनी कुमार ने बताया कि इस घटना के बाद पीड़ित महिला गांव छोड़ चली गई है. महिला की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है.

उन्होंने बताया कि हाल ही में गांव के कुछ बच्चे अचानक बीमार पड़ गए जिसके बाद गांव के लोगों का लगा कि ये सब डायन के कुप्रभाव का नतीजा है. गांव के लोगों मानना था कि पीडि़त दलित महिला टोना टोटका करती है. इसके बाद कुछ लोग दलित महिला के घर गए और उसे डायन बताते हुए पीटने लगे.

गौरतलब है कि बिहार राज्य में हाल के दिनों में दलितों के खिलाफ अत्याचार की घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि हुई है. बीते दिनों बिहार के मुजफ्फरपुर में मोटरसाइकिल चुराने के आरोप में दबंगों पर दो दलित युवको को जमकर पीटने और पेशाब पिलाने की घटना सामने आई थी.

वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री और हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने कहा था कि राज्य में हाल के दिनों में दलितों के खिलाफ अत्याचार की घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि से जाहिर होता है कि सरकार इस मामले में पूरी तरह फेल साबित हुई है.

First published: 30 July 2016, 17:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी