Home » इंडिया » After currency ban many gujarati people search in google, how i get black to white
 

गुजराती जनता गूगल बाबा की शरण में, सबसे ज्यादा सर्च किया कैसे करें 'काले' को सफेद?

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 November 2016, 15:17 IST
(एजेंसी)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा देश में काले धन पर शिकंजा कसने के लिए 500 और 1000 रुपये के नोट बंद करने के बाद एक दिलचस्प जानकारी सामने आई है. पीएम मोदी के ही गृह प्रदेश गुजरात में सबसे ज्यादा लोगों ने गूगल पर खोजा कि काले धन को सफेद कैसे किया जा सकता है.

इसके साथ ही गुजरात के बाद दूसरे नंबर पर यूपी और तीसरे नंबर पर हरियाणा की जनता ने सर्च किया कि काले धन को कैसे सफेद में तब्दील किया जाए.

गूगल सर्च के नतीजों के मुताबिक 8 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एलान के बाद रात 9:30 बजे काले धन पर की जाने वाली सर्च सर्वाधिक ऊंचे रिकॉर्ड स्तर को छू गई और और यह आंकड़ा 100 फीसदी तक जा पहुंचा.

अगले दिन इस विषय पर होने वाली सर्च में यूपी, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, दिल्ली और महाराष्ट्र काफी आगे रहे, लेकिन तीसरे ही दिन सर्च करने वालों का ट्रेंड बदल गया और गूगल पर काले धन को सफेद करने के तरीके खोजे जाने लगे.

बताया जा रहा है कि 10 नवंबर को हरियाणा में सबसे ज्यादा लोगों ने इस बाबत गूगल पर सर्च की, जिसमें औद्योगिक शहर गुड़गांव सबसे आगे रहा. गुजरात इस दिन दूसरे स्थान पर रहा.

गूगल पर काले धन को सफेद करने के तरीके ढूंढने वालों में 11 नवंबर को गुजरात सबसे आगे चला गया. रिपोर्ट के मुताबिक दोपहर 2 बजे तक गुजरात में राजकोट सबसे आगे रहा और उसके बाद सूरत और वड़ोदरा में ये तरीके ढूंढे गए.

वहीं यूपी में आगरा का स्थान चौथा रहा, जहां काले धन को सफेद करने के तरीके गूगल पर ढूंढ़े जा रहे थे. 11 नवंबर को रात 9 बजे तक गुजरात में यह सर्च जबरदस्त ढंग से बढ़ गई और पूरे देश में गुजरात के पांच शहर टॉप ट्रेंड में शामिल हो गए.

इनमें पहला स्थान राजकोट का रहा, जबकि उसके बाद सूरत, गांधीनगर, आणंद और फिर वड़़ोदरा के लोग भी शामिल थे. 9 बजे तक हरियाणा के अंबाला कैंट में काले धन को सफेद करने के तरीके ढूंढ़ने वाले लोग देश में छठे स्थान पर रहे और आगरा ने सातवां स्थान हासिल किया.

First published: 12 November 2016, 15:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी