Home » इंडिया » After laying the foundation stone of Ram temple in Ayodhya, PM Modi said these big things, read full speech
 

अयोध्या में राममंदिर की आधारशिला रखने के बाद PM मोदी ने कही ये बड़ी बातें, पढ़िए पूरा स्पीच

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 August 2020, 14:44 IST

Ram Mandir Bhumi Pujan:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अयोध्या में भव्य राम मंदिर की नींव रखी. इसी के साथ पीएम मोदी अयोध्या राम जन्मभूमि का दौरा करने वाले पहले पीएम बन गए. इस दौरान पीएम मोदी ने शिलापट्ट का अनावरण किया. उनके साथ श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्य गापेाल दास, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत भी मौजूद रहे. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने इस मौके पर कहा ''पूरे देश में आनंद की लहर है, सदियों की आस पूरी होने का आनंद है. सबसे बड़ा आनंद है भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए जिस आत्मविश्वास की आवश्यकता थी और जिस आत्म भान की आवश्यकता थी उसका सगुण साकार अधिष्ठान बनने का शुभआरंभ आज हो रहा है.''

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा ''आज उस कार्यक्रम की सिद्धि के रूप में PM मोदी के करकमलों से इस अवसर पर राममंदिर की निर्माण कार्य के भूमिपूजन और कार्यशुभारंभ का यह पवित्र पल हम सब को देखने को मिला है'' उन्हपने कहा . हम सब गौरवान्वित है कि अवधपुरी को लेकर जो सपना हमने सबने देखा है उस बात का एहसास तीन वर्ष पहले UP की इस अवधपुरी में दीप उत्सव कार्यक्रम के साथ आप सबने महसूस किया होगा.


पीएम मोदी ने कही ये बड़ी बातें

पीएम मोदी ने कहा ''आज पूरा भारत भावुक है सदियों का इंतजार आज समाप्त हो रहा है. करोड़ों लोगों को आज ये विश्वास ही नहीं हो रहा होगा कि वो अपने जीते-जी इस पावन दिन को देख पा रहे हैं. बरसों से टाट और टेंट के नीचे रह रहे हमारे रामलला के लिए अब एक भव्य मंदिर का निर्माण होगा''. उन्होंने कहा ''राम मंदिर के लिए चले आंदोलन में अर्पण भी था तर्पण भी था, संघर्ष भी था, संकल्प भी था. जिनके त्याग, बलिदान और संघर्ष से आज ये स्वप्न साकार हो रहा है, जिनकी तपस्या राममंदिर में नींव की तरह जुड़ी हुई है, मैं उन सब लोगों को आज नमन करता हूं, उनका वंदन करता हूं.''

पीएम ने कहा ''श्रीराम का मंदिर हमारी संस्कृति का आधुनिक प्रतीक बनेगा, हमारी शाश्वत आस्था का प्रतीक बनेगा, हमारी राष्ट्रीय भावना का प्रतीक बनेगा और ये मंदिर करोड़ों-करोड़ लोगों की सामूहिक संकल्प शक्ति का भी प्रतीक बनेगा''. उन्होंने कहा राम हमारे मन में गढ़े हुए हैं, हमारे भीतर घुल-मिल गए हैं. आप भगवान राम की अद्भूत शक्ति देखिए, इमारतें नष्ट हो गईं. क्या कुछ नहीं हुआ, अस्तित्व मिटाने का हर प्रयास हुआ. लेकिन राम आज भी हमारे मन में बसे हैं, हमारी संस्कृति के आधार हैं.''

अयोध्या: प्रभु श्रीराम को सामने पाकर जमीन पर लेट गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, किया साष्टांग प्रणाम

उन्होंने कहा ''प्रभु श्रीराम ने हमें कर्तव्यपालन की सीख दी है, अपने कर्तव्यों को कैसे निभाएं इसकी सीख दी है, उन्होंने हमें विरोध से निकलकर, बोध और शोध का मार्ग दिखाया है, हमें आपसी प्रेम और भाईचारे के जोड़ से राममंदिर की इन शिलाओं को जोड़ना है. मुझे विश्वास है, हम सब आगे बढ़ेंगे, देश आगे बढ़ेगा. भगवान राम का ये मंदिर युगों-युगों तक मानवता को प्रेरणा देता रहेगा, मार्गदर्शन करता रहेगा''. अंत में पीएम मोदी ने कहा ''हमें ध्यान रखना है जब-जब मानवता ने राम को माना है विकास हुआ है, जब-जब हम भटके हैं विनाश के रास्ते खुले हैं. हमें सभी की भावनाओं का ध्यान रखना है''.

Ram Mandir Bhoomi Pujan : 29 साल पहले लिया था ये प्रण, राम जन्मभूमि का दौरा करने वाले पहले PM बने मोदी

First published: 5 August 2020, 14:31 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी