Home » इंडिया » After Madhya Pradesh, fear of Congress increases in Maharashtra, Sanjay Nirupam made a big statement
 

मध्य प्रदेश के बाद महाराष्ट्र में बढ़ा कांग्रेस का डर, संजय निरुपम ने दिया बड़ा बयान

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 March 2020, 13:59 IST

मध्य प्रदेश कांग्रेस के 22 विधायकों के इस्तीफे बाद अब महाराष्ट्र में भी कांग्रेस को अपने विधायकों के टूटने का डर सता रहा है. पार्टी के एक बड़े नेता संजय निरुपम ने यह संकेत दिए हैं. संजय निरुपम का कहना है ''महाराष्ट्र की सरकार स्थिर सरकार नहीं है, तीन दलों की सरकार है और मैं इसके बारे में हमेशा कहता हूं कि ये उधार का सिंदूर लेकर सुहागन बनने वाली बात हैं, ऐसे सुहाग टिकते नहीं है. कांग्रेस को ऐसे पार्टी का हिस्सा नहीं बनना चाहिए''.

इससे पहले एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने बुधवार शाम को अपने सभी विधायकों की बैठक बुलाई थी. हालांकि एनसीपी नेताओं ने कहा कि इस मीटिंग 26 मार्च को होने वाले सात राज्यसभा सीटों के लिए होने वाले चुनाव पर चर्चा होनी है. 

राहुल गांधी ने क्या कहा 

मध्य प्रदेश संकट पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने के लिए प्रधानमंत्री पर निशाना साधा. उन्होंने कहा वैश्विक तेल कीमतों में 35 फीसदी की गिरावट के बावजूद पेट्रोल की कीमतें आसमान छू रही हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कांग्रेस सरकार को अस्थिर करने में व्यस्त है.


उन्होंने कहा ''पवार साहब और फ़ौज़िया खान चुनाव के लिए पार्टी के उम्मीदवार होंगे. दोनों बुधवार को अपना नामांकन पत्र दाखिल कर रहे हैं. शाम को, पवार साहब ने सभी विधायकों की एक बैठक बुलाई है जहां चुनाव के लिए पार्टी की रणनीति के बारे में उन्हें संबोधित करने की संभावना है.”

एमपी के बाद महाराष्ट्र में 'ऑपरेशन लोटस' का डर ! शरद पवार ने बुलाई विधायकों की बैठक

First published: 11 March 2020, 13:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी