Home » इंडिया » After Paper leak Centre granted one-year extension to its chairman, Ashim Khurana,
 

पेपर लीक मामले के तीन महीने बाद SSC के चैयरमैन को केंद्र ने दे दिया ये ईनाम

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 May 2018, 11:46 IST

कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) की कंबाइड ग्रेजुएट लेबल परीक्षा में पेपर लीक मामले के तीन महीने बाद केंद्र ने एसएससी के चेयरमैन अशीम खुराना को एक साल का सेवा विस्तार दे दिया है. साथ ही सरकार ने एसएससी के नियमों में बदलाव कर इस पद के लिए आयु सीमा बढ़ाने बढ़ाने का फैसला लिया है. गौरतलब है कि 17 से 22 फरवरी 2018 तक हुए कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल परीक्षा की दूसरे चरण की ऑनलाइन परीक्षा से पहले प्रश्न पत्र सोशल मीडिया पर लीक हो गए थे.

जरात-कैडर आईएएस अधिकारी को दिसंबर 2015 में एसएससी के चेयरमैन के रूप में नियुक्त किया गया था. खुराना ने 62 वर्ष की उम्र में इस साल 12 मई को अपना कार्यकाल पूरा कर लिया था लेकिन इसके दो दिन बाद कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) ने एक नोट जारी किया जिसमें कहा गया कि खुराना को एसएससी चेयरमैन के रूप में एक साल का सेवा विस्तार दिया जाता है.

साथ ही सरकार ने इस नोट में एसएससी नियमों में संशोधन को मंजूरी दे दी है. अब एसएससी के चेयरमैन पद के लिए 65 साल की ऊपरी आयु सीमा तय की गई है. गौरतलब है कि इस साल 17 से 22 फरवरी तक आयोजित एसएससी की स्नातक स्तर परीक्षा में कथित पेपर लीक के खिलाफ व्यापक विरोध प्रदर्शन हुए थे. जिसके बाद सीबीआई को इस मामले में जांच के आदेश दिए गए थे.

इस मामले में देशभर के विभिन्न छात्र संगठनों ने आरोप लगाए थे कि पेपर लीक में एसएससी के अधिकारी और ऑनलाइन परीक्षा संचालन करने वाली एजेंसी भी शामिल है. एसएससी ने इन आरोपों को शुरू में ख़ारिज किया था और प्रदर्शनकारियों से सबूत पेश करने को कहा था.

ये भी पढ़ें : JNU में जल्द पढ़ाया जाएगा 'इस्लामिक टेररिज्म', एक बार फिर हो सकता है विवाद

First published: 19 May 2018, 11:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी